खरीद-फरोख्त के डर से बेंगलुरु में रखे गए 44 कांग्रेस विधायक 9 दिन बाद गुजरात लौटे

44 कांग्रेस विधायकों को जिस बस से एयरपोर्ट से बाहर ले जाया जा रहा था, वह बस ही खराब हो गई और फिर धक्का देकर बस को चालू किया गया और सभी विधायकों को निजानंद रिसॉर्ट ले जाया गया.

खरीद-फरोख्त के डर से बेंगलुरु में रखे गए 44 कांग्रेस विधायक 9 दिन बाद गुजरात लौटे

गुजरात के कांग्रेस विधायक

खास बातें

  • सभी विधायकों को निजानंद रिसॉर्ट ले जाया गया
  • 29 जुलाई को बेंगलुरु भेजा था
  • बीजेपी पर लगाया था खरीद-फरोख्त का आरोप
अहमदाबाद:

पिछले कई दिनों से बेंगलुरु के रिसॉर्ट में मीडिया और बाहरी दुनिया से दूर रखे गए कांग्रेस के सभी 44 विधायक वापस गुजरात लौट आए हैं. आज तड़के 4:20 पर कांग्रेस विधायक फ्लाइट से अहमदाबाद पहुंचे. कड़े सुरक्षा इंतजामों के बीच विधायकों को एयरपोर्ट से आणंद ज़िले के निजानंद रिसॉर्ट ले जाया गया है. मंगलवार को राज्यसभा चुनाव की वोटिंग तक उन्हें यहीं रखा जाएगा. 8 अगस्त को होने वाले राज्यसभा चुनाव में खरीद-फरोख्त के डर से कांग्रेस ने अपने 44 विधायकों को 29 जुलाई को बेंगलुरु भेजा था. उससे पहले कांग्रेस के छह विधायक पार्टी का दामन छोड़ चुके थे. तीन बीजेपी में शामिल हो गए थे. कांग्रेस का आरोप है कि बीजेपी उनके विधायकों को डरा-धमका कर अपने पाले में शामिल करने की कोशिश में है. 

पढ़ें: बेंगलुरु : हफ्ते भर बाद पहली बार रिसॉर्ट से बाहर निकले गुजरात के कांग्रेसी विधायक

कांग्रेस विधायकों को जिस बस से एयरपोर्ट से बाहर ले जाया जा रहा था, वह बस ही खराब हो गई और फिर धक्का देकर बस को चालू किया गया और सभी विधायकों को निजानंद रिसॉर्ट ले जाया गया. कांग्रेस ने आरोप लगाया था कि बीजेपी द्वारा उनके विधायकों को खऱीदने की कोशिश हो रही है. बीजेपी विधायकों को 15 करोड़ का ऑफर दे रही है.

Newsbeep


पढ़ें: गुजरात राज्यसभा चुनाव : कांग्रेस के लिए और बुरी खबर! एनसीपी ने कहा - हम किसी के सहयोगी नहीं 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com