NDTV Khabar

कांग्रेस ने उठाए सवाल, कहा- उन्नाव में रेप पीड़िता को जलाने की घटना पर प्रधानमंत्री खामोश क्यों?

कांग्रेस ने सवाल पूछते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस मामले पर खामोश क्यों हैं?

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कांग्रेस ने उठाए सवाल, कहा- उन्नाव में रेप पीड़िता को जलाने की घटना पर प्रधानमंत्री खामोश क्यों?

पीएम मोदी

खास बातें

  1. उन्नाव में रेप पीड़िता को जलाने की घटना पर कांग्रेस ने उठाए सवाल
  2. कहा- उन्नाव में रेप पीड़िता को जलाने की घटना पर प्रधानमंत्री खामोश क्यों?
  3. कहा- भाजपा शासित राज्यों में महिलाओं के खिलाफ ज्यादा हो रहे अपराध
नई दिल्ली:

कांग्रेस ने उन्नाव (Unnao) में बलात्कार पीड़िता को जलाए जाने की घटना को लेकर राज्य की योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) सरकार पर निशाना साधा और सवाल किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) इस मामले पर खामोश क्यों हैं? पार्टी प्रवक्ता रागिनी नायक ने संसद परिसर में संवाददाताओं से बातचीत में यह दावा भी किया कि भाजपा शासित राज्यों में महिलाओं के खिलाफ अपराध की घटनाएं ज्यादा हो रही हैं. उन्होंने कहा, ‘‘2014 में मोदी जी ने महिलाओं की सुरक्षा का वादा किया और देश की महिलाओं को लगा कि सुरक्षा के संदर्भ में उनके अच्छे दिन आएंगे. लेकिन आज महिलाओं में दहशत है. अब तो लोग कह रहे हैं कि भाजपा नेताओं से बेटियों को बचाओ.''

उन्नाव रेप पीड़िता को जलाने के मामले में अधीर रंजन ने कहा- एक तरफ राम का मंदिर बन रहा है, दूसरी तरफ 'सीता' को आग लगाई जा रही है


रागिनी ने कहा, ‘‘अगर भाजपा सरकार कुलदीप सिंह सेंगर जैसे लोगों को संरक्षण नहीं देती तो आज उन्नाव में अपराधियों की हिम्मत एक और बेटी को जलाने की नहीं होती.'' उन्होंने दावा किया, ‘‘9 महिलाओं के खिलाफ अपराध सबसे ज्यादा भाजपा शासित राज्यों में हो रहे हैं. इसकी एक बड़ी वजह भाजपा की विचारधारा है जो महिलाओं के खिलाफ है.''

कांग्रेस नेता अमी याग्निक ने कहा, ‘‘भाजपा के लोग जो भी दावे करें, लेकिन जमीनी हकीकत यही है कि महिलाएं दहशत में हैं. चाहें वो स्कूल जाएं या काम पर जाएं, वो हर जगह दहशत में हैं. आज महिलाएं सुरक्षा का अधिकार मांग रही हैं.''

टिप्पणियां

तेलंगाना एनकांउटर BSP प्रमुख मायावती ने कहा- उत्तर प्रदेश और दिल्ली पुलिस को प्रेरणा लेनी चाहिए

उन्होंने सवाल किया, ‘‘प्रधानमंत्री अलग अलग विषयों पर पांच सेकेंड में ट्वीट कर देते हैं. लेकिन उन्नाव पर उन्होंने कोई बयान नहीं दिया. महिला एवं बाल विकास मंत्री ने कोई बयान नहीं दिया. गृह मंत्री ने भी कोई रिपोर्ट नहीं मंगाई. ऐसा क्यों?'' याग्निक ने दावा किया कि इस सरकार में ‘‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ'' सिर्फ एक नारा बनकर रह गया है. 



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. India News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


 Share
(यह भी पढ़ें)... सलमान खान को देखकर सारा अली खान ने किया 'आदाब' तो भाईजान ने लगाया गले- देखें Video

Advertisement