प्रवासी मजदूरों को लेकर कांग्रेस ने PM मोदी पर साधा निशाना, कही यह बात... 

कांग्रेस प्रवक्‍ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने एक ट्वीट किया- डियर PM, घर वापस लौटने वाले प्रवासी श्रमिकों की दिल को झकझोर देने वाली मानव त्रासदी को करुणा, देखभाल और सुरक्षित वापसी की आवश्यकता थी.

प्रवासी मजदूरों को लेकर कांग्रेस ने PM मोदी पर साधा निशाना, कही यह बात... 

प्रवासी मजदूरों को लेकर कांग्रेस का पीएम मोदी पर हमला.

कोरोनावायरस की महामारी ने पूरी दुनिया को झकझोर कर रख दिया है. कोरोनावायरस के प्रकोप से काम-धंधे ठप पड़े हुए हैं. सबसे ज्‍यादा परेशानी उन प्रवासी मजदूरों को हो रही है जिनकी रोजीरोटी इस महामारी ने छीन ली है. लगभग रोज कमाकर अपना जीवन यापन करने वाले प्रवासी मजदूर काम की तलाश में महानगरों में पहुंचे थे, लेकिन काम न होने के कारण अब घर लौटने को मजबूर हैं. इनमें से कई तो तंगहाली के चलते परिवार के साथ पैदल ही लौट रहे हैं. घर लौटते हुए इनमें से कई मजदूरों ने सड़क दुर्घटना में जान गंवाई है तो कुछ ट्रेन हादसे के भी शिकार हुए हैं. कई मजदूरों ने तो पैदल सैकड़ों किमी लंबा सफर तय करने के बाद थकान से चूर होकर ही दम तोड़ दिया.

इन मजदूरों के साथ इनका परिवार भी है, जिसमें महिलाएं और बच्‍चे शामिल हैं. परिवार के पास धनराशि न होने के कारण कई महिलाएं तो गर्भवती होने के बाद भी अपना सफर पैदल करने को विवश हैं. प्रवासी मजदूरों की इस हालत पर कांग्रेस पार्टी ने पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है. कांग्रेस प्रवक्‍ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने एक ट्वीट किया- डियर PM, घर वापस लौटने वाले प्रवासी श्रमिकों की दिल को झकझोर देने वाली मानव त्रासदी को करुणा, देखभाल और सुरक्षित वापसी की आवश्यकता थी. लाखों प्रवासी मजदूरों से जुड़े मामले में आपकी संवेदनहीनता और विफलता के कारण भारत को गहरी निराशा हुई है. 

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गौरतलब है कि लॉकडाउन और केंद्र सरकार के तमाम प्रयासों के बावजूद देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry) की ओर से मंगलवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक, देश में कोरोनावायरस से अब तक 2293 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि संक्रमितों की संख्या 70,756 हो गई है. वहीं, पिछले 24 घंटों में कोरोना के 3604 नए मामले सामने आए हैं और 87 लोग इसकी वजह से जान गंवा चुके हैं. इस बीमारी से अब तक 22,455 मरीज ठीक हुए हैं.