NDTV Khabar

महाराष्ट्र के सियासी घटनाक्रम पर कोर्ट का भी दरवाजा खटखटा सकती है कांग्रेस

लेकिन आज सुबह अचानक देवेंद्र फडणवीस अचानक अजित पवार के साथ राज्यपाल भवन शपथ लेने पहुंच गए. इस बात की किसी को भी कानों-कान खबर नहीं थी कि बीजेपी ने रात में ऐसा कुछ खेल कर देगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
महाराष्ट्र के सियासी घटनाक्रम पर कोर्ट का भी दरवाजा खटखटा सकती है कांग्रेस

महाराष्ट्र के घटनाक्रम पर कांग्रेस नेताओं ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की है.

नई दिल्ली:

महाराष्ट्र में रात को अचानक से बदले सियासी घटनाक्रम में जिस तरह से बीजेपी ने एनसीपी को तोड़कर सरकार बनाई है इस पर कांग्रेस अब कानून का भी दरवाजा खटखटा सकती है. कांग्रेस नेता अहमद पटेल ने कहा है कि पार्टी राजनीतिक और कानूनी दोनों मोर्चों पर लड़ाई लड़ेगी. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल ने कहा कि आज का दिन महाराष्ट्र के इतिहास का काला धब्बा है. सब कुछ आनन-फानन और तड़के किया गया है. गौरतलब है कि  Congress-NCP के साथ मिलकर शिवसेना ने सरकार बनाने की कवायद शुरू की थी. कई दिनों की उहापोह के बाद कांग्रेस-NCP आखिरकार शिवसेना को समर्थन देने के लिए राजी हो गईं और शुक्रवार की शाम तक कई दौर की बैठकों के बाद शरद पवार ने घोषणा की महाराष्ट्र के नए सीएम उद्धव ठाकरे होंगे और शनिवार को तीनों दल राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे.


लेकिन आज सुबह अचानक देवेंद्र फडणवीस अचानक अजित पवार के साथ राज्यपाल भवन शपथ लेने पहुंच गए. इस बात की किसी को भी कानों-कान खबर नहीं थी कि बीजेपी ने रात में ऐसा कुछ खेल कर देगी. यहां तक कि Congress-NCP और शिवसेना आज ही राज्यपाल के साथ मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश करने वाली थी. हालांकि अजित पवार के साथ कितने विधायक गए हैं इस बात का कोई खुलासा नहीं हुआ है. देखने वाली बात यह होगी कि बीजेपी अजित पवार के सहारे विधानसभा में बहुमत साबित कर पाएगी या नहीं.

आपको बता दें कि महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव मे बीजेपी को 105, शिवसेना को 56, एनसीपी को 54 और कांग्रेस को 44 सीटें मिली हैं. बीजेपी और शिवसेना ने मिलकर बहुमत का 145 का आंकड़ा पार कर लिया था. लेकिन शिवसेना ने 50-50 फॉर्मूले की मांग रख दी जिसके मुताबिक ढाई-ढाई साल सरकार चलाने का मॉडल था. शिवसेना का कहना है कि बीजेपी के साथ समझौता इसी फॉर्मूले पर हुआ था लेकिन बीजेपी का दावा है कि ऐसा कोई समझौता नहीं हुआ. इसी लेकर मतभेद इतना बढ़ा कि दोनों पार्टियों की 30 साल पुरानी दोस्ती टूट गई.
 

अन्य बड़ी खबरें :

महाराष्ट्र में बड़े उलटफेर के बाद बोले केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान- सड़क पर वही जानवर मरता है जो...

महाराष्‍ट्र में बीजेपी-एनसीपी की सरकार बनने के बाद कांग्रेस की प्रेस कांफ्रेंस, कही ये 5 बड़ी बातें 

टिप्पणियां

Maharashtra की सियासत पर राजनेताओं का दिखा शायराना अंदाज़, लिखा- ''बेवफा हो गए देखते-देखते...''



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... उद्देश्य के लिए संघर्ष करने वाले लोग गांधीजी का अहिंसा का मंत्र सदैव याद रखें : गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्‍या पर राष्ट्रपति कोविंद

Advertisement