पुरी में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री नवीन पटनायक को दिखाए काले झंडे

पुरी दौरे पर आए मुख्यमंत्री ने 3,208 करोड़ रुपये की लागत वाली उस परियोजना की समीक्षा की जिसके तहत शहर को विश्व धरोहर बनाए जाने की योजना है.

पुरी में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री नवीन पटनायक को दिखाए काले झंडे

प्रतीकात्मक तस्वीर

पुरी:

ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक को शनिवार को पुरी में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने काले झंडे दिखाए. कांग्रेस कार्यकर्ता, बगला धर्मशाला की भूमि को कथित तौर पर व्यवसायियों को बेचने का विरोध कर रहे थे. पुलिस ने कहा कि विरोध प्रदर्शन के दौरान छह कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया गया.

शुक्रवार को पटनायक का जन्मदिन था और इस अवसर पर उन्होंने भगवान जगन्नाथ को कोविड-19 के कारण मंदिर के बाहर से ही प्रणाम किया. पुरी दौरे पर आए मुख्यमंत्री ने 3,208 करोड़ रुपये की लागत वाली उस परियोजना की समीक्षा की जिसके तहत शहर को विश्व धरोहर बनाए जाने की योजना है.

यह भी पढ़ें- ओडिशा के CM की बड़ी घोषणा, कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में जान गंवाने वाले डॉक्‍टरों को 'शहीद' का दर्जा देंगे

कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने पटनायक को बगला धर्मशाला के पास से काले झंडे दिखाए. पुरी जिला युवा कांग्रेस अध्यक्ष स्वाधीन पांडा ने कहा, “बगला धर्मशाला की जमीन को व्यवसायियों को बेचने का हम विरोध करते हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

यह जमीन एक श्रद्धालु कन्हैया लाल ने दान में दी थी ताकि गरीब तीर्थयात्रियों को कम कीमत पर आवास उपलब्ध कराया जा सके.”
 

कोरोना पर लगाम लगाने में कैसे सफल हुई ओडिशा सरकार ?



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)