NDTV Khabar

जल्द ही अपने आधार से जुड़े मोबाइल नंबरों की जानकारी ले सकेंगे उपभोक्ता

जानकारी के अनुसार वह ऐसा करके दूसरे लोगों को सिम कार्ड जारी कर रहे हैं या  किसी अनजान का सत्यापन करा रहे हैं. प्राधिकरण ने दूरसंचार कंपनियों को आगाह करते हुए कहा कि वह यह सुनिश्चित करें कि उनके खुदरा विक्रेता या एजेंट किसी तरह की गड़बड़ी न करें.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जल्द ही अपने आधार से जुड़े मोबाइल नंबरों की जानकारी ले सकेंगे उपभोक्ता

आधार कार्ड की फाइल फोटो

खास बातें

  1. कंपनियों को जारी किए गए विशेष आदेश
  2. बीते कुछ दिनों से मिल रही थी शिकायत
  3. गड़बड़ी को रोकने के लिए कड़े कदम उठाने की बात कही गई
नई दिल्ली:

भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने सभी दूरसंचार कंपनियों से अपने ग्राहकों को ऐसी सुविधा उपलब्ध कराने को कहा है जिसके तहत वह जान सकें कि उनके आधार से कौन कौन से मोबाइल नंबर जुड़े हैं. प्राधिकरण का मानना है कि इस पहल से सिम के अनाधिकृत इस्तेमाल की संभावनाएं दूर की जा सकेंगी. बीते कुछ दिनों से प्राधिकरण के समक्ष इस तरह की कई घटनाएं आई हैं जिनमें कुछ खुदरा विक्रेता, आपरेटर और दूरसंचार कंपनियों के एजेंट नए सिम जारी करने,नंबरों का पुनर्सत्यापन करने के लिए वह दूसरों के आधार नंबर का दुरुपयोग कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें: पैन आधार से जुड़ पाया है या नहीं, कोई संशय हो तो इन दो आसान तरीकों से चेक कर लें

जानकारी के अनुसार वह ऐसा करके दूसरे लोगों को सिम कार्ड जारी कर रहे हैं या  किसी अनजान का सत्यापन करा रहे हैं. प्राधिकरण ने दूरसंचार कंपनियों को आगाह करते हुए कहा कि वह यह सुनिश्चित करें कि उनके खुदरा विक्रेता या एजेंट किसी तरह की गड़बड़ी न करें. साथ ही अपने विशेष आदेश में प्राधिकरण ने दूरसंचार कंपनियों से कहा गया है कि वे यह नई सुविधा 15 मार्च तक शुरू कर दें.


यह भी पढ़ें: TSPSC TRT admit card जारी, ऐसे करें आप डाउनलोड

इस सुविधा के तहत उपयोक्ता एसएमएस के जरिए यह जान सकेंगे कि उनका मोबाइल नंबर आधार से सम्बद्ध है या नहीं. इसके साथ ही वह यह भी जान सकेंगे कि उनके आधार नंबर पर कितने मोबाइल नंबर जारी हैं या सत्यापित हैं. प्राधिकरण के सीईओ अजय भूषण ने बताया कि सभी दूरसंचार कंपनियों से 15 मार्च तक अपने ग्राहकों को यह सेवा देने को कहा गया है.

टिप्पणियां

VIDEO: खराब हो सकता है आपका आधार कार्ड.

उल्लेखनीय है कि देश में 1.2 अरब से अधिक लोगों का आधार के लिए नामांकन हो चुका है जो कि12 अंकों की विशिष्ट संख्या है. (इनपुट भाषा से) 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement