सोशल डिस्‍टेंसिंग का नहीं हो रहा पालन, फेस्टिव सीजन में राजस्‍थान में कोरोना के केस बढ़े

राजस्‍थान में जो संक्रमण फैल रहा है, वह संभाग के मुख्य शहरों अलवर, जोधपुर, जयपुर और बीकानेर में है क्योंकि त्यौहारों में लोग सोशल डिस्टेंस का पालन नहीं कर रहे हैं. 

सोशल डिस्‍टेंसिंग का नहीं हो रहा पालन, फेस्टिव सीजन में राजस्‍थान में कोरोना के केस बढ़े

फेस्टिव सीजन में राजस्‍थान में कोरोना के केसों में इजाफा हुआ है (प्रतीकात्‍मक फोटो)

खास बातें

  • कोरोना के एक्टिव केसों की संख्‍या 17352 हुई
  • राज्‍य के कई नेता भी हुए कोरोना संक्रमित
  • फेस्टिव सीजन में सोशल डिस्‍टेंसिंग के पालन में हो रही लापरवाही
जयपुर :

Corona Pandemic : त्‍योहारों के मौसम में राजस्थान में कोरोना का संक्रमण (Corona Cases In Rajasthan) फेस्टिव सीजन में फैल रहा है. राज्‍य में 24 घंटों में 2176 केस दर्ज किए गए हैं, इसके साथ ही कोरोना के एक्टिव केसों की संख्‍या 17352 पहुंच गई है. आमलोगों के अलावा राज्‍य के नेता भी कोरोना के प्रकोप से नहीं बच पाए है. सचिन पायलट, सहकारिता मंत्री उदय लाल आंजना, पूर्व मंत्री कालीचरण सराफ और हाल ही में चले गुर्जर आरक्षण के आंदोलन का केंद्रबिंदु रहे कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला भी कोरोना संक्रमित हो गए हैं.

कांग्रेस नेता सचिन पायलट हुए कोरोना पॉजिटिव, ट्वीट करके दी जानकारी

राजस्‍थान में जो संक्रमण फैल रहा है, वह संभाग के मुख्य शहरों अलवर, जोधपुर, जयपुर और बीकानेर में है क्योंकि त्यौहारों में लोग सोशल डिस्टेंस का पालन नहीं कर रहे हैं. जयपुर के बाज़ारों में रौनक ज़रूर लौटी है, लेकिन साथ में कोरोना  भी मास्क पहना तो अनिवार्य है. बहरहाल इस भीड़भड़ाके के बीच कई लोग सोशल डिस्‍टेंसिंग का पालन नहीं कर रहे हैं. कोरोना मामले बढ़ने के कारणों पर प्रकाश डालते हुए डायरेक्‍ट पब्लिक हेल्‍थ डॉ. केके शर्मा ने कहा, 'जिस तरह से मौसम बदल रहा है. मौसम बदलने के साथ संक्रमण अधिक हो जाता है. दूसरी बात यह, त्‍योहारी सीजन में लोग सामान खरीदने मार्केट में निकलते है और निर्देशों का पालन नहीं करते."

दिल्ली में 4 में एक शख्स COVID संक्रमित, लगभग हर घर को वायरस ने बनाया निशाना : अदालत 

कोरोना केसों में ज्‍यादातर इजाफा बड़े शहरों से देखने मिल रहा है. अलवर में 112  केस दर्ज हुए हैं, जोधपुर में 366, जयपुर में 475 और बीकानेर में 258 केस सामने आए हैं. त्‍योहार के साथ आंदोलन भी संक्रमण का कारण बन सकता है. हाल ही में गुर्जर आरक्षण आंदोलन का केंद्र रहे कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला को भी आंदोलन खत्‍म होने के दूसरे ही दिन कोरोना संक्रमित पाए गए.


अफवाह बनाम हकीकत : दिल्ली में अगले 7-10 दिन में मामले और बढ़ने का अंदेशा

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com