दिल्ली में अभी तक कोरोना वायरस संक्रमण के 120 मामले, पिछले 24 घंटे में 23 नए केस

दिल्ली में अभी तक कोरोना के 120 मामले सामने आ चुके हैं. पिछले 24 घंटे में 23 नए मामले सामने आए हैं. इन मामलों में निज़ामुद्दीन मरकज़ से कोई शामिल नहीं है.

दिल्ली में अभी तक कोरोना वायरस संक्रमण के 120 मामले, पिछले 24 घंटे में 23 नए केस

प्रतीकात्मक फोटो.

नई दिल्ली:

दिल्ली में अभी तक कोरोना के 120 मामले सामने आ चुके हैं. पिछले 24 घंटे में 23 नए मामले सामने आए हैं. इन मामलों में निज़ामुद्दीन मरकज़ से कोई शामिल नहीं है. निजामुद्दीन मरकज से पिछले तीन दिनों में कुल 1888 लोग निकाले गए हैं. इनमें से 441 को अस्पताल भेजा गया है और 1447 को क्वारन्टीन सेन्टर भेजा गया है.

देश में कोरनावायरस का प्रकोप लगातार बढ़ता जा रहा है. भारत में कोरनावायरस (COVID-19) से अबतक 35 लोगों की मौत हो चुकी है और संक्रमितों की संख्या 1397 पहुंच गई है. बीते 24 घंटे में कोरोना के 146 नए मामले सामने आए हैं, वहीं एक अच्छी खबर यह है कि इसके संक्रमण से 124 लोग ठीक हो चुके हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से मंगलवार रात ये आंकड़े जारी किए गए हैं. बता दें कि कोरोनावायरस के बढ़ते मामले को देखते हुए देश में 21 दिनों का लॉकडाउऩ जारी है. 21 दिनों का लॉकडाउऩ 14 अप्रैल तक जारी रहेगा. 

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि संक्रमण को रोकने के लिए लागू किए गए देशव्यापी लॉकडाउन का पालन ठीक से नहीं होने के कारण मामले बढ़ रहे हैं. इनके साथ ही संक्रमण के खतरे वाले इलाके (हॉटस्पॉट) भी बढ़ रहे हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि देश में कोरोना वायरस के संक्रमण के कुल 1251 मामले हो गए हैं, जबकि इनकी मौत का आंकड़ा 32 तक पहुंच गया है. उन्होंने बताया कि पिछले 24 घंटे में पश्चिम बंगाल, गुजरात और मध्यप्रदेश में एक एक संक्रमित मरीज की मौत हुई है.

उन्होंने संक्रमण के मामलों में इजाफा नहीं रुकने के पीछे संक्रमण के नए मामलों से संबद्ध इलाकों में लॉकडाउन के पालन में जनता के सहयोग में कमी और संक्रमण की समय से पहचान में देरी होने को प्रमुख वजह बताया है. उन्होंने कहा कि जिस इलाके से संक्रमण का एक भी मामला सामने आता है, उसे पृथक हॉटस्पॉट के रूप चिन्हित कर उस इलाके में रोकथाम के उपाय तेज कर दिए जाते हैं. अग्रवाल ने संक्रमण के मामले रोकने के लिए लॉकडाउन का पालन सुनिश्चित करने को ही एकमात्र उपाय बताते हुए कहा कि इसकी रोकथाम के लिए सरकार हरसंभव प्रयास कर रही है.

उन्होंने कहा कि चिकित्सा उपकरणों की आपूर्ति के लिए विदेश मंत्रालय के साथ मिलकर स्वास्थ्य मंत्रालय ने तुर्की, दक्षिण कोरिया और वियतनाम के आपूर्तिकर्ताओं से संपर्क स्थापित किया है. अग्रवाल ने बताया कि मंत्रालय ने कोरोना संक्रमण के बारे में प्रमाणिक जानकारी लोगों को अवगत कराने के लिए ऑनलाइन परामर्श केंद्र भी शुरू करने की पहल की है. इसे अगले 24 घंटों में शुरू कर दिया जाएगा. उन्होंने बताया कि देश में कोरोना के संक्रमण की स्थिति का जायजा लेने के लिए स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन की अध्यक्षता वाले मंत्री समूह की बैठक हुई. इसमें राज्य सरकारों द्वारा बनाए गए कोविड-19 अस्पतालों में स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने के लिए केंद्र और राज्य सरकारों के बीच सहयोग बढ़ाने की जररूत पर बल दिया गया. साथ ही राज्यों को ऐसे प्रवासी मजदूरों का परीक्षण कराने को कहा गया है, जिनमें संक्रमण के लक्षण दिखाई दें. 

राजस्थान में  चार नए मामले, कुल संख्या 93 हुई
राजस्थान में 14 और लोग कोरोनावायरस पॉजिटिव पाए गए हैं इनमें 10 लोग वे हैं जिन्हें ईरान से लाकर जोधपुर में रखा गया है. इससे राज्य में कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्या बढ़कर 93 हो गई है. अतिरिक्त मुख्य सचिव (स्वास्थ्य) रोहित कुमार सिंह ने बताया कि राज्य में मंगलवार को कुल 17 और लोग कोरेना वायरस संक्रमित (पाजिटिव) पाये गए. इनमें चार लोग राजस्थान के ही हैं जबकि दस लोग ईरान से यहां आए हैं. राजस्थान की बात की जाए तो अजमेर में एक, डूंगरपुर में एक, झुंझुनू में एक व जयपुर में एक मरीज शामिल है. वहीं ईरान से लाकर जोधपुर में रखे गए लोगों में से दस और लोग कोरोना पाजिटिव मिले हैं. इनकी कुल संख्या 17 हो गयी और राज्य में कोविड-19 संक्रमितों की कुल संख्या 93 हो गई है.  

केरल में एक बुजुर्ग की मौत
केरल में कोरोना वायरस संक्रमण से 68 वर्षीय बुजुर्ग की मौत हो गई और इसी के साथ राज्य में संक्रमण से मरने वालों की संख्या दो हो गई है. सरकार ने मंगलवार को यह जानकारी दी. तिरुवनंतपुरम मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि व्यक्ति की हालत ‘‘बेहद नाजुक'' थी. राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण से यह दूसरी मौत है. बयान में कहा गया कि मरीज पिछले पांच दिन से वेंटिलेटर पर था और उच्च रक्तचाप से पीड़ित था. साथ ही उसका डायलिसिस भी चल रहा था. इससे पहले राज्य में कोविड-19 से कोच्चि के चुल्लिकाल में एक व्यक्ति की मौत हो गई थी.

मप्र में कोरोना वायरस संक्रमण से पांचवीं मौत
मध्यप्रदेश के इंदौर में 49 वर्षीय महिला के सोमवार रात दम तोड़ने के बाद राज्य में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की मौत की तादाद बढ़कर पांच पर पहुंच गयी है. इनमें से तीन अकेले इंदौर शहर के निवासी थे जिनमें से दो की मौत पिछले 24 घंटे में हुई. शासकीय महात्मा गांधी स्मृति चिकित्सा महाविद्यालय के एक अधिकारी ने मंगलवार को बताया कि चंदन नगर क्षेत्र में रहने वाली 49 वर्षीय महिला ने मनोरमा राजे टीबी (एमआरटीबी) चिकित्सालय में आखिरी सांस ली. अब तक मिली रिपोर्टों के मुताबिक सूबे में कुल 47 लोग कोरोना वायरस संक्रमण की जद में आये हैं. इनमें इंदौर के सर्वाधिक 27 मरीज शामिल हैं. इनके अलावा, जबलपुर के आठ, उज्जैन के पांच, भोपाल के तीन और शिवपुरी एवं ग्वालियर के दो-दो मरीजों में भी इस संक्रमण की पुष्टि हुई जिनका अलग-अलग अस्पतालों में इलाज जारी है.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com