Coronavirus: सबसे अधिक संक्रमण ग्रस्त स्थानों के लिए केंद्र ने 20 टीमें गठित कीं

बीस टीमें 10 राज्यों के 20 शहरों में भेजी जाएंगी, राज्यों के साथ तालमेल बनाकर वहां पर कोरोना संक्रमण को कंट्रोल करने के लिए काम करेंगी

Coronavirus: सबसे अधिक संक्रमण ग्रस्त स्थानों के लिए केंद्र ने 20 टीमें गठित कीं

प्रतीकात्मक फोटो.

नई दिल्ली:

Coronavirus: कोरोना वायरस के तेजी से बढ़ते मामलों को देखते हुए केंद्र सरकार ने 20 टीमें गठित कीं, ये टीमें 10 राज्यों के 20 शहरों में भेजी जाएंगी. स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से गठित ये टीमें राज्यों के साथ तालमेल बनाकर वहां पर कोरोना संक्रमण को कंट्रोल करने के लिए काम करेंगी. आंकड़ों की समीक्षा करने के बाद केंद्र सरकार ने 10 राज्यों के ऐसे 20 शहरों और जिलों को चिन्हित किया है जहां पर युद्ध स्तर पर कोरोना कंट्रोल करने के लिए काम करना जरूरी हो गया है.

टॉप पर महाराष्ट्र के तीन बड़े शहर हैं, जहां पर स्वास्थ्य मंत्रालय की टीमें जाएंगी. इसमें मुंबई, पुणे और ठाणे हैं. देश में सबसे ज्यादा कोरोना के मामले महाराष्ट्र में ही सामने आ रहे हैं. इसके बाद गुजरात के अहमदाबाद, सूरत और बड़ोदरा में भी स्वास्थ्य मंत्रालय की टीमें जाएंगी और राज्य सरकार के हेल्थ वर्करों के साथ कोऑर्डिनेट करके वहां पर काम करेंगी.

मध्यप्रदेश में इंदौर और भोपाल में ना सिर्फ सबसे ज्यादा मामले आ रहे हैं बल्कि वहां पर अभी संक्रमण कंट्रोल भी नहीं हुआ है इसीलिए इन दोनों शहरों में भी केंद्र सरकार की टीमें जा रही हैं. कोरोना संक्रमण के मामले जिस राज्य में ज्यादा आ रहे हैं उसमें राजस्थान के जयपुर और जोधपुर भी हैं. तमिलनाडु में चेन्नई, तेलंगाना में हैदराबाद, उत्तर प्रदेश में आगरा और लखनऊ जबकि पश्चिम बंगाल में कोलकाता प्रमुख हैं. आंध्र प्रदेश में करनूल, गुंटुर और कृष्णा जिले सबसे चुनौती वाले इलाके हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

दिल्ली के दो जिले दक्षिणी पूर्वी दिल्ली और मध्य दिल्ली के लिए भी केंद्र ने दो टीमों का गठन किया है जो दिल्ली सरकार की टीमों के साथ तालमेल बिठाकर इन जिलों में काम करेंगी.

इन टीमों के गठन के पीछे पिछले एक हफ्ते से कोरोना संक्रमण के मामले में बेहद तेजी से बढ़ोतरी मानी जा रही है. मौतों की संख्या भी तेजी से बढ़ी है. यही वजह है कि स्वास्थ्य मंत्रालय अब उन शहरों और जिलों में ज्यादा फोकस करना चाहती है जहां संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं.