कोरोना के खिलाफ जंग में इस दिव्यांग लड़की ने दान की अपनी 10 महीनों की पेंशन, मुस्लिम समाज से की ये अपील

सबीना ने कहा कि ये कार्य सबको करना चहिए. विशेषकर मुस्लिम समुदाय के लोग भी आगे आएं.

कोरोना के खिलाफ जंग में इस दिव्यांग लड़की ने दान की अपनी 10 महीनों की पेंशन, मुस्लिम समाज से की ये अपील

सबीना सैफी ने मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए दस महीने की पेंशन दान की

लखनऊ:

कोरोना संक्रमण से पैदा हुए संकट में जहां हर तरफ से मदद के हाथ बढ़ रहे हैं, वहीं एक दिव्यांग लड़की ने बड़ा जज्बा दिखाते हुए सोमवार को मुख्यमंत्री राहत कोष में अपनी दस महीने की पेंशन दान कर दी. राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए वीडियो साझा किया, जिसमें सबीना सैफी मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए दस महीने की पांच हजार रूपये पेंशन देते हुए देश और प्रदेशवासियों से कर्तव्य पालन की अपील करती भी नजर आ रही हैं. इस वीडियो में भारतीय स्टेट बैंक की सआदतगंज शाखा के प्रबंधक वीरेन्द्र कुमार राम कह रहे हैं, "आज दिनांक 27 अप्रैल 2020 को दिव्यांग सबीना सैफी, जो अति गरीब हैं, अपनी दस महीने की पेंशन 5000 रूपये मुख्यमंत्री रिलीफ फंड में दान दे रही हैं, जो सराहनीय है. मैं इनके उज्जवल भविष्य की कामना करता हूं."

Newsbeep

वीडियो में सबीना कहती हैं, "समस्त भारतवासियों और प्रदेशवासियों को कुमारी सबीना का नमस्कार. आज मुझे सौभाग्य मिला है कि इस विपदा की घड़ी में, मैं अपने कर्तव्य का निर्वाह कर पाई. सबको अपने कर्तव्य का पालन करना चाहिए क्योंकि हमारा भी देश के प्रति कुछ कर्तव्य है." सबीना देख नहीं सकती हैं. उन्होंने कहा कि हमें सिर्फ लेना नहीं बल्कि देना भी है और सबसे पहले वह वीरेन्द्र कुमार राम को धन्यवाद करती हैं क्योंकि उन्हें बाहर जाने में दिक्कत आ रही थी इसलिए राम स्वयं उनके घर आ गए. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


सबीना ने कहा कि ये कार्य सबको करना चहिए. विशेषकर मुस्लिम समुदाय के लोग भी आगे आएं. उन्होंने कहा, “जिसकी जो क्षमता है... जरूरी नहीं कि पांच हजार रूपये दान करें या पांच सौ रूपये ... ये कुछ नहीं होता है. भावना की बात होती है.”उन्होंने कहा, "अपनी क्षमता के अनुसार आप जो भी कर सकते हैं, इस विपत्ति की घड़ी में अवश्य करिए. करके देखिये, अच्छा लगता है."सबीना ने शाखा प्रबंधक को अपने सहयोगी आकाश शर्मा की ओर से भी 500 रूपये की राशि प्रदान की.