भारत में कोरोना का कहर: अब तक 166 की मौत, पिछले 24 घंटे में सामने आए 540 नए मामले

पिछले 24 घंटे की बात करें तो 540 नए मामले आए हैं, जबकि 17 लोगों की मौत हुई है.

भारत में कोरोना का कहर: अब तक 166 की मौत, पिछले 24 घंटे में सामने आए 540 नए मामले

प्रतीकात्मक तस्वीर.

नई दिल्ली:

 कोरोना वायरस के कारण देश में मरने वाले लोगों की संख्या 166 पर पहुंच गई है और संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 5,734 हो गई है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि अब भी 5,095 लोग संक्रमित हैं जबकि 472 लोग स्वस्थ हो चुके हैं और उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिल चुकी है तथा एक व्यक्ति देश छोड़कर चला गया है. मंत्रालय ने बताया कि देशभर में पिछले 24 घंटे में 17 और लोगों की मौत हुई है. साथ ही बताया कि आठ लोगों की मौत महाराष्ट्र में, तीन की गुजरात में, दो की जम्मू कश्मीर में और एक-एक व्यक्ति की मौत पंजाब, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक तथा तमिलनाडु में हुई है. महाराष्ट्र में कोरोना वायरस से सबसे अधिक 72 लोगों की मौत हुई है. इसके बाद गुजरात में 16 लोगों की, मध्य प्रदेश में 13 और दिल्ली में नौ लोगों की मौत हुई. पंजाब तथा तमिलनाडु में आठ-आठ लोगों की मौत हुई जबकि तेलंगाना में सात लोगों ने जान गंवाई.

पश्चिम बंगाल और कर्नाटक में पांच-पांच लोगों की मौत हुई. आंध्र प्रदेश, जम्मू कश्मीर तथा उत्तर प्रदेश में चार-चार लोगों ने जान गंवाई जबकि हरियाणा और राजस्थान में तीन-तीन लोगों की मौत हुई. स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, केरल में दो लोगों ने जान गंवाई. बिहार, हिमाचल प्रदेश और ओडिशा में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई. बुधवार शाम तक देश में कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण मरने वाले लोगों की संख्या 149 थी. 

वहीं, दिल्ली सरकार ने कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए राष्ट्रीय राजधानी में कोविड​​-19 से अत्यधिक प्रभावित 20 इलाकों को सील कर दिया है और घर से बाहर निकलने पर मास्क लगाना अनिवार्य कर दिया है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोविड-19 को फैलने से रोकने के उपायों पर चर्चा करने के लिए बुधवार को वरिष्ठ मंत्रियों और दिल्ली सरकार के शीर्ष अधिकारियों के साथ बैठक की.

केजरीवाल ने उच्च स्तरीय बैठक के बाद ट्वीट किया, ‘चेहरे पर मास्क लगाने से काफी हद तक कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार को कम किया जा सकता है. इसलिये यह फैसला किया गया है कि घर से बाहर कदम रखने वाले किसी भी व्यक्ति के लिये मास्क लगाना आवश्यक होगा. कपड़े का मास्क भी उपयोग में लाया जा सकता.' इस बैठक में उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया भी मौजूद थे. उन्होंने बैठक के बाद कहा कि बिना मास्क लगाए घर से बाहर निकलने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. सिसोदिया ने ही राष्ट्रीय राजधानी में कोविड​​-19 से अत्यधिक प्रभावित 20 इलाकों को सील किए जाने की घोषणा की.

भारत में कोरोना : दिन-ब-दिन बढ़ते मामले

Made with Flourish

उन्होंने कहा कि ऐसे क्षेत्रों में लोग अपने घरों से बाहर नहीं आ सकते और सरकार आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति सुनिश्चित करेगी. उन्होंने एक उच्च स्तरीय बैठक के बाद पत्रकारों से बात करते हुए कहा, ‘‘किसी को भी इन क्षेत्रों से प्रवेश करने या वहां से बाहर निकलने की अनुमति नहीं दी जाएगी.'' 

वीडियो: रवीश कुमार का प्राइम टाइम: दक्षिण कोरिया ने कैसे किया कोरोना का सामना?

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com