लॉकडाउन: पंजाब पुलिस अधिकारी ने महिलाओं कहा- 21 दिन मर्दों को रोटियां पकाना सिखाओ, अंदर आप बोलो, बाहर हम बोलेंगे

पंजाब पुलिस के एक अधिकारी का वीडियो सोशल मीडिया पर काफी शेयर किया जा रहा है, जिसमें वह महिलाओं से अपील करते हुए दिख रहे हैं कि मर्दों से 21 दिन तक घर का काम करवाएं. वीडियो में वह पंजाबी में बोलते हुए दिख रहे हैं.

लॉकडाउन: पंजाब पुलिस अधिकारी ने महिलाओं कहा- 21 दिन मर्दों को रोटियां पकाना सिखाओ, अंदर आप बोलो, बाहर हम बोलेंगे

प्रतीकात्मक तस्वीर.

नई दिल्ली:

पंजाब और केन्द्रशासित प्रदेश चंडीगढ़ में बुधवार को कर्फ्यू के बावजूद लोग जरूरी सामान खरीदने के लिये बाहर निकले. लोगों ने दावा किया कि प्रशासन अपने वादे के अनुसार उन्हें घर पर जरूरी सामान मुहैया कराने में नाकाम रहा है. एक ओर जहां अधिकारियों ने सभी जिलों में घरों पर जरूरी सामान मुहैया कराने के लिये अलग अलग समय तय कर रखा है, वहीं दूसरी ओर कई जगहों पर लोगों की शिकायत है कि उन्हें जरूरी सामान विशेषकर सब्जी, फल और किराने का सामान नहीं मिल रहा है

इसी बीच पंजाब पुलिस के एक अधिकारी का वीडियो सोशल मीडिया पर काफी शेयर किया जा रहा है, जिसमें वह महिलाओं से अपील करते हुए दिख रहे हैं कि मर्दों से 21 दिन तक घर का काम करवाएं. वीडियो में वह पंजाबी में बोलते हुए दिख रहे हैं. 

पवन कुमार नाम के असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर महिलाओं से विनती करते हुए कहते हैं, 'मैं बहनों से विनती करना चाहता हूं. कोरोना वायरस की बीमारी चल रही है. प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री अपील कर रहे हैं. इटली में आपने देख ही लिया कि कितनी मौते हुई हैं. लेकिन मैं एएसआई पवन कुमार विनती करता हूं कि जो लोग खाली है, जो कहते हैं कि हमसे 21 दिन आराम नहीं होता. उनसे काम करवाओ, घर की सफाई करवाओ, छत साफ करवाओ, रेलिंग साफ करवाओ, बर्तन साफ करवाओ और कपड़े धुलवाओ. इससे घर की सफाई होगी, कोरोना वायरस की सफाई होगी और साथ में इनकी भी सफाई होगी.'

साथ ही वह कहते हैं, '21 दिन इन्हें रोटियां पकाना सिखाओ. कल को किसी बहन को बाहर जाना हुआ तो फिक्र नहीं होगी. घर पर रोटियां बनाना वाला होगा. आप अंदर बोला, बाहर आएंगे तो हम बोलेंगे.'

बता दें, मुख्यमंत्री अमरिन्दर सिंह ने मंगलवार को कहा था कि उपायुक्त किराने का सामान, दूध, फल और सब्जियां घर-घर पहुंचाना सुनिश्चित करेंगे. अधिकारियों ने कहा कि लोगों को चयनित सब्जी विक्रेताओं, किराने की दुकानों, दवा दुकानों के फोन नंबर दिये गए हैं ताकि वे घर बैठे ही सामान मंगा सकें.  जिला प्रशासन ने अधिकतर स्थानों पर दूध घरों पर पहुंचाने के लिये सुबह छह से नौ बजे तक का समय तय कर रखा है. जबकि सुबह आठ बजे से 11 बजे तक सब्जी और दवाएं पहुंचाने का समय तय किया गया है. कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए पंजाब में सोमवार को कर्फ्यू लागू किया गया. यहां अभी तक कोरोना वायरस के 29 मामले सामने आ चुके हैं.

वीडियो: कोरोना पॉजिटिव आने के बाद ठीक हुए मरीज ने सुनाई आपबीती

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com