राहुल गांधी ने श्रम कानूनों में संशोधन के कुछ राज्‍यों के फैसले को बताया गलत, कही यह बात..

राहुल गांधी ने एक ट्वीट करके कहा कि इन मूलभूत सिद्धांतों पर कोई समझौता नहीं हो सकता. राहुल ने अपने ट्वीट में लिखा- अनेक राज्यों द्वारा श्रमकानूनों में संशोधन किया जा रहा है. . 

राहुल गांधी ने श्रम कानूनों में संशोधन के कुछ राज्‍यों के फैसले को बताया गलत, कही यह बात..

राहुल ने कुछ राज्‍यों की ओर से श्रम कानूनों में बदलाव के फैसले को गलत बताया है

नई दिल्ली:

oronavirus Lockdown: कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कोरोना वायरस की महामारी के कारण जारी लॉकडाउन के बीच कुछ राज्‍यों द्वारा श्रम कानूनों में संशोधन का विरोध किया है. उन्‍होंने एक ट्वीट करके कहा कि इन मूलभूत सिद्धांतों पर कोई समझौता नहीं हो सकता. राहुल ने अपने ट्वीट में लिखा- अनेक राज्यों द्वारा श्रमकानूनों में संशोधन किया जा रहा है. हम कोरोना के खिलाफ मिलकर संघर्ष कर रहे हैं, लेकिन यह मानवाधिकारों को रौंदने, असुरक्षित कार्यस्थलों की अनुमति, श्रमिकों के शोषण और उनकी आवाज दबाने का बहाना नहीं हो सकता.

गौरतलब है कि कोरोना महामारी की वजह से दुनिया के ज्‍यादातर देशों में इस समय लॉकडाउन जारी है. लॉकडाउन का सबसे ज्‍यादा असर अर्थव्‍यवस्‍था पर पड़ा है. भारत में करीब डेढ़ महीने से ज्‍यादा समय से लागू लॉकडाउन की वजह से उद्योग-धंधे ठप हो चुके हैं. इससे उबरने और उद्योग जगत को पटरी पर लाने के लिए अब तक छह राज्य अपने लेबर कानूनों में कई बड़े बदलाव कर चुके हैं, इन राज्‍यों में मध्‍यप्रदेश, राजस्‍थान, गुजरात आदि शामिल हैं. यूपी, ओडिशा और महाराष्‍ट्र ने भी अपने श्रम कानूनों में बदलाव किया है. माना जा रहा है कि जल्द ही कुछ और राज्य भी अपने यहां ऐसे बदलावों की घोषणा कर सकते हैं. 

लॉकडाउन के बीच देश में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्‍या में बढ़ोत्‍तरी जारी है. देश में इस समय कोराना मरीजों का आंकड़ा 67 हजार के पार पहुंच चुका है, इस वायरस के कारण 2206 लोगों को जान गंवानी पड़ी है. 20 हजार 917 लोग इलाज के बाद स्‍वस्‍थ हो चुके हैं, इस तहत देश में एक्टिव केसों की संख्‍या 44029 है.

VIDEO: Red Zone में कुछ इस तरह से आगे बढ़ रही है जिंदगी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com