Coronavirus: महाराष्ट्र में सरकार ने लिए कई कड़े फैसले, सरकारी दफ्तरों में आधे कर्मचारी काम करेंगे

रेलवे, एसटी बस, निजी बस और मेट्रो में यात्रियों की संख्या भी 50 फीसदी कम करने की कोशिश की जाएगी, दुकानों को खोलने के लिए नई व्यवस्था

Coronavirus: महाराष्ट्र में सरकार ने लिए कई कड़े फैसले, सरकारी दफ्तरों में आधे कर्मचारी काम करेंगे

प्रतीकात्मक फोटो.

मुंबई:

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कोरोना वायरस (Coronavirus) के मद्देनजर कई अहम घोषणाएं की हैं. कोरोना का संक्रमण भीड़ से बढ़ता है इसलिए भीड़ को कम करने के लिए कई अहम फैसले लिए गए हैं. सरकारी कार्यालयों में कर्मचारियों की उपस्थिति 50 फीसदी की जाएगी. इसके लिए एक दिन आधे कर्मचारी तो दूसरे दिन आधे कर्मचारी आएंगे. रेलवे, एसटी बस, निजी बस और मेट्रो में यात्रियों की संख्या भी 50 फीसदी कम करने की कोशिश की जाएगी.

मुंबई में बेस्ट बस में यात्रियों को खड़े होकर यात्रा करने की इजाजत नही दी जाएगी. बसों की संख्या बढ़ाने के लिए वैकल्पिक व्यवस्था की जाएगी. बसों की संख्या बढ़ाने के लिए बंद स्कूलों की बसों का यातायात के लिए इस्तेमाल किया जाएगा. दुकानों के समय भी कुछ इस तरह तय किए जाएंगे कि एक तय दूरी पर सभी दुकानें क्रमश: दोपहर और शाम को खुली रखी जाएंगी.

Newsbeep

दवाखानों और अस्पतालों में सभी प्रकार की साधन सामग्री उपलब्ध रहे इसका ख्याल रखा जाएगा.
जितनी जरूरत है उतने क्वारंटाइन रूम बनाए जाएंगे. मास्क, चिकित्सा उपकरण, वेंटिलेशन, दवाई और अस्पताल कर्मचारियों के लिए सुरक्षा साधनों की व्यवस्था की गई है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


सरकार ने जनता से अपील की है कि वह जीवनावश्यक वस्तुएं, खाद्य सामग्री और दवाइयों को जमा कर घर मे न रखें. जरूरी वस्तुओं की कमी नहीं है, घबराए नहीं. कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.