केरल के इन दो लोगों में 14 दिन के क्वारेंटाइन पीरियड में नहीं दिखा कोरोना का लक्षण, फिर जब टेस्ट हुआ तो...

तिरुवनंतपुरम से लगभग 100 किलोमीटर दूर केरल के पठानमथिट्टा जिले से कोरोना के दो ऐसे मामले सामने आए हैं, जिनमें COVID-19 के कोई लक्षण नहीं थे.

केरल के इन दो लोगों में 14 दिन के क्वारेंटाइन पीरियड में नहीं दिखा कोरोना का लक्षण, फिर जब टेस्ट हुआ तो...

केरल से कोरोना के दो ऐसे मामले सामने आए जिनमें उसके लक्षण नहीं थे.

पठानमथिट्टा (केरल):

देश में कोरोनावायरस का कहर जारी है. कोरोना वायरस से 4 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं और 100 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. हर रोज नए संक्रमित मामलो में इजाफा देखने को मिल रहा है. इस बीच केरल से एक चिंता करने वाला मामला सानने आया है. अधिकारियों ने बताया कि तिरुवनंतपुरम से लगभग 100 किलोमीटर दूर केरल के पठानमथिट्टा जिले से कोरोना के दो ऐसे मामले सामने आए हैं, जिनमें COVID-19 के कोई लक्षण नहीं थे. इनमें से एक 60 वर्ष का शख्स दुबई से यहां पहुंचा था, वहीं दूसरा 19 साल का छात्रा है जिसने दिल्ली से यात्रा की थी. इन दो मामलों के सामने आने के बाद राज्य सरकार हरकत में आ गई है. 

जिलाधिकारी पीबी नोह ने NDTV को बताया, 'यह एक चेतावनी का संकेत है. हजारों निर्दोष और अज्ञात लोग भी इनके संपर्क में आ सकते हैं. यह खतरे की घंटी जैसा है कि इनलोगों ने 14 दिन का क्वारेंटाइन पीरियड भी बिना किसी लक्षण के पूरा कर लिया जो और भी भयावह है. इसका अर्थ यह है कि हमें अभी भी सतर्क मार्ग पर चलने की जरूरत है.   

ko3ermog

राज्य अधिकारियों द्वारा जारी किया गया 60 वर्षीय शख्स का रूट मैप.

60 साल के शख्स 19 मार्च से 6 अप्रैल तक क्वारेंटाइन में रहे. उनका परीक्षण इसलिए किया गया था, क्योंकि वह कोरोना के हाई रिस्क जोन से आए ते.  उन्होंने 19 मार्च को शारजाह से तिरुवनंतपुरम की उड़ान ली थी. इसके बाद वहां से सड़क मार्ग से अपने घर पहुंचे थे.

3dsbss68

राज्य अधिकारियों द्वारा जारी किया गया 19 वर्षीय छात्रा का रूट मैप.

वहीं, 19 वर्षीय छात्रा ने 15 मार्च को दिल्ली से ट्रेन पकड़ी थी और 17 मार्च को एर्नाकुलम पहुंची. इसके बाद वह अपने गृहनगर और क्वारेंटाइन के लिए बस में सवार हुईं थीं. उसे 4 अप्रैल को अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई, जबकि उसमें कोई लक्षण नहीं थे. 

पठानमथिट्टा के जिला चिकित्सा अधिकारी एएन शेजा ने NDTV से कहा, 'हमने उच्च जोखिम वाले क्षेत्रों या हाल ही में यात्रा करने वाले लोगों का परीक्षण शुरू कर दिया है.'

बता दें कि केरल में अब तक 327 कोरोना संक्रमित मामले सामने आ चुके हैं और दो लोगों की इससे मौत हो चुकी है. वहीं, 58 लोग राज्य में कोरोना से ठीक हो चुके हैं. 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com