लॉकडाउन पर अगले फैसले के बीच PM नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के जरिये की विपक्षी नेताओं से बात..

वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग में जो नेता शामिल हुए, उसमें कांग्रेस के गुलाम नबी आजाद, तृणमूल कांग्रेस के सुदीप बंधोपाध्‍याय, शिवसेना के संजय राउल, समाजवादी पार्टी के राममोपाल यादव, बीएसपी नेता सतीश चंद्र मिश्रा, लोक जनशक्ति पार्टी के चिराग पासवान, एनसीपी नेता शरद पवार और डीएमके नेता टीआर बालू शामिल थे.

लॉकडाउन पर अगले फैसले के बीच PM नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के जरिये की विपक्षी नेताओं से बात..

पीएम ने बुधवार को वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के जरिये विपक्षी नेताओं से बातचीत की

खास बातें

  • 14 अप्रैल को खत्‍म होगा 21 दिन का लॉकडाउन
  • कोरोना के प्रकोप को चलते इसे बढ़ाने पर हो रहा विचार
  • कुछ राज्‍य इस बारे में कर चुके हैं अनुरोध
नई दिल्‍ली :

Coronavirus Outbreak: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने बुधवार को वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के जरिये देश के विपक्षी नेताओं के साथ मीटिंग की. इसमें देश में कोरोना वायरस के बढ़ते केसों के मद्देनजर इस महामारी से बचाव के उपायों और लॉकडाउन (Lockdown)के मुद्दे पर चर्चा की गई. गौरतलब है कि देश में कोरोना वायरस के संक्रमण से प्रभावित लोगों की संख्‍या बढ़कर पांच हजार के पार पहुंच गई है .वीडियो लिंक के जरिये पिछले कुछ दिनों की गई मीटिंग के सिलसिले को बढ़ाते हुए पीएम ने बुधवार को विपक्षी नेताओं से बातचीत की.

वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग में जो नेता शामिल हुए, उसमें कांग्रेस के गुलाम नबी आजाद, तृणमूल कांग्रेस के सुदीप बंधोपाध्‍याय, शिवसेना के संजय राउल, समाजवादी पार्टी के राममोपाल यादव, बीएसपी नेता सतीश चंद्र मिश्रा, लोक जनशक्ति पार्टी के चिराग पासवान, एनसीपी नेता शरद पवार और डीएमके नेता टीआर बालू शामिल थे, इसमें लोक जनशक्ति पार्टी  एनडीए का हिस्‍सा है   गौरतलब है कि देश में कोरोना से बचाव के लिए इस समय 14 अप्रैल तक का लॉकडाउन जारी है. ऐसे समय जब देश में कोरोना के केसों की संख्‍या में इजाफा हुआ है, लॉकडाउन की अवधि बढ़ाने पर विचार हो रहा है. यूपी, तेलंगाना जैसे कुछ राज्‍यों में भी लॉकडाउन को बढ़ाने का अनुरोध किया है.

पिछले सप्‍ताह पीएम ने कांग्रेस प्रमुख सोनिया गांधी, पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनजी सहित कुछ अन्‍य नेताओं से चर्चा की थी और देश में कोरोना वायरस के प्रकोप को करने के लिए किए जाने वाले उपायों के बारे में सुझाव मांगे थे. उन्‍होंने पूर्व राष्‍ट्रपति प्रतिभा पाटील, प्रणब मुखर्ज और पूर्व पीएम डॉ. मनमोहन सिंह और एचडी देवेगोड़ा के साथ भी वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के जरिये चर्चा की थी. कोरोना वायरस की महामारी के कारण देश में अब तक 149 लोगों की मौत हुई है, इसमें से 35 मौतें पिछले 24 घंटों में हुई हैं. एक दिन में कोरोना वायरस के चलते देश में हुई मौतों का सबसे बड़ा आंकड़ा है. देश में 21 दिनों का लॉकडाउन 14 अप्रैल को खत्‍म होगा. पीएम की शनिवार को राज्‍यों के मुख्‍यमंत्रियों के साथ होने वाली दूसरी बैठक में लॉकडाउन पर अंतिम फैसला लिया जाएगा.

वीडियो: कोराना वायरस के खिलाफ सरकार की आक्रामक रणनीति

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com