Coronavirus Outbreak: अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप के 'थैक्‍यू' का पीएम नरेंद्र मोदी ने यह जवाब देकर जीता दिल...

पीएम मोदी ने यह जवाब ट्रंप द्वारा भारत की ओर से किए गए सहयोग के लिए दिए गए धन्‍यवाद के जवाब में कही. अमेरिकी राष्‍ट्रपति ने अपने ट्वीट में लिखा था- मुश्किल वक्‍त में दोस्‍तों के बीच और अधिक सहयोग जरूरत होती है और यह दोस्‍तों को ओर करीब ला देता है. भारत और भारत को लोगों को HCQ (हाइड्रॉक्सी क्लोरोक्वीन) के फैसले के लिए धन्‍यवाद. यह मदद हम भूल नहीं पाएंगे.

Coronavirus Outbreak: अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप के 'थैक्‍यू' का पीएम नरेंद्र मोदी ने यह जवाब देकर जीता दिल...

पीएम ने कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में सभी देशों के बीच परस्‍पर सहयोग की जरूरत बताई है

खास बातें

  • पीएम ने कहा, ऐसा समय दोस्‍तों को और करीब ला देता है
  • भारत-अमेरिका के बीच सहयोग अब है पहले से मजबूत
  • ट्रंप ने मदद के लिए पीएम मोदी, देशवासियों को दिया था धन्‍यवाद
नई दिल्ली:

Coronavirus Outbreak: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में सभी देशों के बीच परस्‍पर सहयोग की जरूरत बताई है. उन्‍होंने यह बात अमेरिका के राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप की ओर से मुश्किल वक्‍त में मदद के लिए भारत के लोगों को दिए गए धन्‍यवाद के जवाब में कही. प्रधानमंत्री ने ट्रंप को किए गए जवाबी ट्वीट में कहा, 'President @realDonaldTrump, मैं आपसे पूरी तरह सहमत हूं. ऐसा समय दोस्‍तों को और करीब ला देता है. भारत-अमेरिका की साझेदारी अब पहले से अधिक मजबूत है.' पीएम ने अपने संदेश में लिखा-कोविड-19 के खिलाफ मानवता की जंग में भारत हरसंभव मदद जारी रखेगा'. गौरतलब है कि ऐसे समय जब अमेरिका में कोरोना के केस बेहद तेजी से बढ़ रहे है, भारत ने इस विश्‍व महाशक्ति की मदद करते हुए वहां मलेरियारोधी दवा हाइड्रॉक्सी क्लोरोक्वीन भेजने का फैसला किया है.

पीएम मोदी ने यह जवाब ट्रंप द्वारा भारत की ओर से किए गए सहयोग के लिए दिए गए धन्‍यवाद के जवाब में कही. अमेरिकी राष्‍ट्रपति ने अपने ट्वीट में लिखा था- मुश्किल वक्‍त में दोस्‍तों के बीच और अधिक सहयोग जरूरत होती है और यह दोस्‍तों को ओर करीब ला देता है. भारत और भारत को लोगों को HCQ (हाइड्रॉक्सी क्लोरोक्वीन) के फैसले के लिए धन्‍यवाद. यह मदद हम भूल नहीं पाएंगे. भारत ही नहीं, पूरी मानवता की मदद के लिए पीएम नरेंद्र आपको मजबूत नेतृत्‍व के को धन्‍यवाद. 

गौरतलब है कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने कहा था कि उनके देश ने कोरोना वायरस की महामारी (Coronavirus Outbreak) से लड़ने के लिए हाइड्रॉक्सी क्लोरोक्वीन की 2.9 करोड़ खुराक खरीदी हैं, जिसमें भारत की बहुत बड़ी हिस्सेदारी है. इसके साथ ही उन्‍होंने कहा था किजब उन्होंने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) से मलेरियारोधी दवा की बिक्री की इजाजत देने के लिए मदद मांगी तो उनकी प्रतिक्रिया ‘‘बहुत अच्छी'' थी. ट्रंप और प्रधानमंत्री मोदी ने पिछले हफ्ते फोन पर बात की थी, जिस दौरान ट्रंप ने मोदी से हाइड्रॉक्सी क्लोरोक्वीन के अमेरिकी ऑर्डर पर रोक हटाने का अनुरोध किया था, जिसका भारत प्रमुख निर्माता है.

अमेरिकी खाद्य एवं दवा प्रशासन ने कोविड-19 के उपचार के लिए संभावित दवा के रूप में हाइड्रॉक्सी क्लोरोक्वीन की पहचान की है और न्यूयॉर्क में 1,500 से अधिक कोरोना वायरस संक्रमण के मरीजों पर इसका परीक्षण किया जा रहा है. ट्रंप ने यह अनुमान लगाते हुए कि इस परीक्षण का सकारात्मक परिणाम होगा, हाइड्राक्सी क्लोरोक्वीन की बड़ी संख्‍या में खरीदी की है.

VIDEO: पीएम की ओर से खातों में पैसे, लॉकडाउन में 500 रुपए की मदद

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com