नीतीश ने जनप्रतिनिधियों से किया संवाद, बताया-कोरोना से निपटने के लिए उनकी सरकार ने अब तक क्‍या किया..

नीतीश बुधवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जनप्रतिनिधियों के साथ संवाद कर रहे थे. इन जनप्रतिनिधियों में मुखिया जिला परिषद के अध्यक्ष और सदस्य तथा पंचायतों के अन्य सदस्य शामिल है. नीतीश ने कहा कि आप लोग चिंता मत कीजिए, सरकार सबका ख़्याल रखे हुए है और रखेगी.

नीतीश ने जनप्रतिनिधियों से किया संवाद, बताया-कोरोना से निपटने के लिए उनकी सरकार ने अब तक क्‍या किया..

नीतीश कुमार ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जनप्रतिनिधियों के साथ संवाद किया

पटना:

Coronavirus Pandemic: बिहार के मुख्यमंत्री (Bihar CM) नीतीश कुमार (Nitish Kumar)की पूरे देश में कोरोना महामारी के बाद एक विफल राज्य के मुखिया के रूप में छवि बनी है. ख़ासकर जो श्रमिक (Migrant Labour) दूसरे राज्यों से लौटकर आए हैं, उनके बीच सीएम नीतीश के प्रति नाराज़गी देखते ही बनती है. अब शायद नीतीश ने अपनी इस इमेज को सुधारने का फ़ैसला किया है. जन प्रतिनिधियों से सीधे बात करते हुए बुधवार को उन्होंने कहा कि पिछले 2 महीनों से अधिक समय के दौरान हम लोगों ने क्या नहीं किया उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने अब तक 8538 करोड़ रुपये लोगों के ऊपर खर्च किए हैं.

नीतीश बुधवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जनप्रतिनिधियों के साथ संवाद कर रहे थे. इन जनप्रतिनिधियों में मुखिया जिला परिषद के अध्यक्ष और सदस्य तथा पंचायतों के अन्य सदस्य शामिल है. नीतीश ने कहा कि आप लोग चिंता मत कीजिए, सरकार सबका ख़्याल रखे हुए है और रखेगी. इस संवाद के दौरान मुख्‍यमंत्री के भाषण से लगा कि उन्हें अपने कामों को लेकर जनता तक सारी बातें न पहुंच पाने की जानकारी है, इसलिए उन्होंने पहले स्वास्थ्य विभाग द्वारा इस बीमारी से निबटने के उपाय पर जानकारी दी. हालांकि उन्होंने कहा कि सबका इलाज नहीं कर सकते हैं. इसलिए उन्होंने ग्रामीण इलाक़ों में बिना डिग्री के इलाज का काम कर रहे लोगों से बार-बार अपील की कि वे सहयोग करें क्योंकि जब भी किसी को कोई भी बीमारी का लक्षण होता हैं तो वह उनके पास पहले जाता है.

Newsbeep

नीतीश ने कहा कि सेंटर में हर व्यक्ति पर उसके दिनों के प्रवास के दौरान 53 सौ रुपये का ख़र्च सरकार को आता है .उन्होंने बार-बार कहा कि अब सबके लिए मॉस्क पहनना ज़रूरी होगा .इस संवाद के दौरान ख़ास बात ये रही कि नीतीश ने अपनी सरकार द्वारा जो जो काम लॉकडाउन के बाद किए गए हैं उनके और इसके अलावा केंद्र सरकार के कदमों के बारे में भी बोला. इससे साफ़ हैं कि वो चुनावी वर्ष में अपनी सहयोगी बीजेपी को ख़ुश रखना चाहते हैं. उन्होंने जन प्रतिनिधियों की भी जमकर सराहना की और कहा कि उनमें कोई कमी नहीं हैं और वे जानते हैं कि उनकी बहुत क्षमता हैं. इसलिए उन्होंने सबसे अपील की कि डरने की जरूरत नहीं है, केवल सजग और सचेत रहकर कोरोना वायरस की बीमारी का मुक़ाबला किया जा सकता हैं.

VIDEO: एहतियात के साथ विमान सेवा की हुई शुरुआत, लोगों को मिली राहत

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com