तबलीगी जमात में शामिल लोगों को ढूंढने के लिए पुलिस आजमा रही यह तरकीब, शब-ए-बारात को लेकर भी जारी हुई अपील

Coronavirus Updates: दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच मैपिंग के जरिये मरकज़ आये लोगों की पहचान कर रही है.

तबलीगी जमात में शामिल लोगों को ढूंढने के लिए पुलिस आजमा रही यह तरकीब, शब-ए-बारात को लेकर भी जारी हुई अपील

तबलीगी जमात में शामिल लोगों की पहचान के लिए दिल्ली पुलिस ने अपनाई यह तरकीब (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

कोरोनावायरस (Coronavirus) के चलते पूरे देश में लॉकडाउन (Lockdown) है. इसे देखते हुए लोगों से जब तक जरूरी न हो घर से नहीं निकलने के लिए कहा गया है. साथ ही एक जगह पर एकत्र नहीं होने का भी निर्देश दिया गया है. लॉकडाउन के बीच, दिल्ली पुलिस ने शब-ए-बारात (Shab-E-Barat) यानी 8 और 9 अप्रैल को मुस्लिम लोगों से घर से बाहर नहीं निकलने की अपील की है. इसके लिए एक पोस्टर भी जारी किया गया है. वहीं, दिल्ली पुलिस निजामुद्दीन में जबलीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल लोगों को सेल डेटा के जरिये ढूंढ रही है. 

दिल्ली पुलिस के सूत्रों ने एनडीटीवी को बताया, "दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच मैपिंग के जरिये मरकज़ आये लोगों की पहचान कर रही है. जिनकी मोबाइल की GPS लोकेशन कई दिन तक मरकज़ के आसपास आ रही रही है ,ऐसे लोगों की पहचान की जा रही है. मैपिंग प्रक्रिया में अन्य राज्यों की पुलिस दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की मदद कर रही है." 

माना जा रहा है कि कोरोनावायरस संकट को नजरअंदाज करते हुए मार्च महीने में हुए तबलीगी जमात कार्यक्रम में करीब 9,000 लोगों ने हिस्सा लिया था. इनमें से कई लोग देश के विभिन्न हिस्सों से आए थे. इस कार्यक्रम में विदेश से आए लोगों ने शामिल थे. इन सभी लोगों की तलाश की जा रही है और उन्हें क्वारैन्टाइन में रखा जा रहा है. तबलीगी जमात कार्यक्रम की वजह से कोरोनावायरस के मामले में काफी वृद्धि हुई है. देश में कोरोनावायरस के मामले बढ़कर 3,374 हो गए हैं.

इस बीच, दिल्ली पुलिस ने एक पोस्टर के जरिये मुस्लिम लोगों से अपील की है कि शब-ए-बारात यानि 8 और 9 अप्रैल को घर से बाहर न निकले. किसी भी तरीके से दिल्ली की गली मोहल्लों में लोग इकट्ठे न हो. दिल्ली पुलिस ने धर्म गुरुओं और RWA से भी अपील की है कि वो लोगों से लॉकडाउन का पालन करवाये साथ ही दिल्ली पुलिस ने इस पोस्टर के माध्यम से ये भी कहा है कि किसी भी तरीके से कानून का उलंघन बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और जो कोई व्यक्ति 8 और 9 अप्रैल यानि शब-ए-बारात के दिन बाहर निकलेगा उसके खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी. 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com