Coronavirus: कोरोना से जंग में देश का रोल मॉडल बनेगी रांची, मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने जताई उम्मीद

Coronavirus: झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन ने कहा- सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें लेकिन इस दौरान दिलों को जरूर जोड़े रखें

Coronavirus: कोरोना से जंग में देश का रोल मॉडल बनेगी रांची, मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने जताई उम्मीद

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन.

रांची:

Coronavirus: वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में झारखंड की राजधानी रांची ने एक मिसाल पेश की है. तबलीगी जमात की वजह से राजधानी समेत राज्य के दो जिलों में पैर पसारने वाले कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में रांची ने बेहतरीन काम किया है. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का मानना है कि रांची देश के समक्ष कोरोना से जंग में रोल मॉडल बनकर उभरा है. मुख्यमंत्री ने इसका पूरा श्रेय रांची जिला प्रशासन, डॉक्टरों, स्वास्थ्य कर्मियों, पुलिस कर्मियों, सफाई कर्मियों एवं नि:स्वार्थ भाव से जनता की सेवा कर रही समाजसेवी संस्थाओं को दिया. 

उन्होंने कहा कि न सिर्फ रांची ने कोरोना से जंग जीती है, बल्कि सामाजिक सौहार्द की अनूठी मिसाल भी कायम की है. मुख्यमंत्री ने कहा है कि सब साथ मिलकर ही इस महामारी को हरा सकते हैं. इसलिए वह लोगों से आग्रह करते हैं कि आपस में दूरी बनाएं. यानी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें. हालांकि इस दौरान दिलों को जरूर जोड़े रखें.

मुख्यमंत्री ने कहा है कि उन्हें जानकारी मिली है कि देश के विभिन्न शहरों की तुलना में रांची का कोरोना संक्रमण के मामले में  रिकवरी रेट  सबसे अधिक है. रांची में कोरोना संक्रमण के 103 मामले मिले, जिसमें से 83 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर लौट चुके हैं. अब कोरोना संक्रमण के 18 सक्रिय मामले ही शेष हैं. उन्होंने कहा कि कोरोना से जंग जीतने की यह गति कायम रही, तो आने वाले कुछ दिनों में रांची रेड जोन से बाहर आ जाएगी.

राष्ट्रीय स्तर पर कोरोना वायरस के संक्रमण से रिकवरी की बात करें, तो 35.10 फीसदी लोग स्वस्थ हो रहे हैं. वहीं झारखंड में 52 फीसदी से अधिक लोग अब तक स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके हैं. कोविड19 के संक्रमण से मृत्यु के मामले में झारखंड का रिकॉर्ड राष्ट्रीय औसत से बहुत बढ़िया है. देश में कोविड19 से संक्रमित 3.20 फीसदी लोगों की मृत्यु हो जाती है, तो झारकंड में अब तक 1.38 फीसदी लोगों की ही मौत हुई है.

कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने के मामले में भी झारखंड की स्थिति राष्ट्रीय दर से बेहतर है. देश में पिछले सात दिनों में 5.35 फीसदी की रफ्तार से कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ी है, तो झारखंड में 4.83 फीसदी की दर से. इसी तरह देश में 13.30 दिन में कोरोना के मामलों में 100 फीसदी की वृद्धि हो रही है, जबकि झारखंड में 14.7 दिन में.

उल्लेखनीय है कि झारखंड में अब तक 217 लोग कोरोना वायरस के संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं. इनमें से 113 लोग स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके हैं, जबकि 3 लोगों की मौत हो चुकी है. राज्य में 17 मई तक कोरोना के 101 एक्टिव केस थे. इसमें सबसे ज्यादा 25 मामले गढ़वा में, तो हजारीबाग में 21 मामले थे. रांची में सबसे ज्यादा 103 मामले सामने आए थे, उनमें से 83 ठीक हो गए.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com