Coronavirus संकट को देखते हुए सरकार ने अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर लगी रोक को 14 अप्रैल तक बढ़ाया

इस बीच अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर लगी रोक को सरकार ने 14 अप्रैल तक बढ़ा दिया है. कोरोनावायरस से लेकर जारी संपूर्ण लॉकडाउन के बीच सरकार ने यह फैसला लिया है.

Coronavirus संकट को देखते हुए सरकार ने अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर लगी रोक को 14 अप्रैल तक बढ़ाया

सरकार ने अंतरराष्ट्रीय विमान की उड़ानों पर लगी रोक को बढ़ाया.

नई दिल्ली:

देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. आज (गुरुवार) 43 नए मामले सामने आए. अब तक कुल 649 लोग इसकी चपेट में आ चुके हैं. 13 लोगों की मौत हो चुकी है. इस वायरस से बचाव के लिए पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने 24 मार्च को देश को संबोधित करते हुए पूरे देश में 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की थी. पूरे देश में सख्ती से लॉकडाउन का पालन हो रहा है. इस बीच अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर लगी रोक को सरकार ने 14 अप्रैल तक बढ़ा दिया है. कोरोनावायरस से लेकर जारी संपूर्ण लॉकडाउन के बीच सरकार ने यह फैसला लिया है.

नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने कहा कि पिछले सप्ताह लगाए गए एक हफ्ते के प्रतिबंध को बढ़ा दिया गया है. यह प्रतिबंध कार्गों विमानों की उड़ान पर लागू नहीं होगा. इससे पहले घरेलू उड़ानों पर भी 31 मार्च तक के लिए प्रतिबंध लगाया गया था.  

देश में कुल मामलों की संख्या 649 हुई
स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि कोरोना वायरस से पिछले 24 घंटे में चार लोगों की मौत हो गई और संक्रमण के 43 नए
मामले सामने आए हैं. मंत्रालय ने हालांकि कहा कि पॉजिटिव मामलों में वृद्धि की दर भारत में 'अपेक्षाकृत स्थिर' है.स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि अभी तक यह कहने के लिए कोई पुख्ता साक्ष्य नहीं है कि भारत में कोरोना वायरस संक्रमण का प्रसार समुदाय के स्तर पर हो रहा है. इस वायरस से निपटने के लिए केंद्र और राज्य सरकारें युद्ध स्तर पर कदम उठा रही है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कोरोना वायरस महामारी और उसके आर्थिक प्रभाव से निपटने के लिये बृहस्पतिवार को खासतौर से गरीबों, बुजुर्गों, स्वयं सहायता समूहों और निम्न आग वर्ग को राहत देते हुए 1.70 लाख करोड़ रुपये की 'प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना' की घोषणा की.