NDTV की पड़ताल - 7 जुलाई से होना था COVID-19 वैक्सीन का ट्रायल, नहीं हुआ शुरू

दरअसल, ICMR ने 2 जुलाई को सभी अस्पतालों/ संस्थानों के हेड को चिट्ठी लिखी थी और कहा था कि किसी भी सूरत में 7 जुलाई को ट्रायल की प्रक्रिया शुरू करनी है. ताकि 15 अगस्त तक वैक्सीन तैयार की जा सके.

NDTV की पड़ताल - 7 जुलाई से होना था COVID-19 वैक्सीन का ट्रायल, नहीं हुआ शुरू

प्रतीकात्मक तस्वीर.

नई दिल्ली:

भारत में कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों के बीच जिन 12 अस्पताल में Covid-19 की वैक्सीन का ट्रायल 7 जुलाई से शुरू होना था, उसमें एनडीटीवी ने पाया है कि अभी तक कोई ट्रायल शुरू नहीं हुआ है. इन 12 अस्पतालों में 7 जुलाई से सब्जेक्ट एंरोलमेंट के साथ क्लीनिकल ट्रायल शुरू होना था. एनडीटीवी ने 10 अस्पतालों (क्लीनिकल साइट्स) से बात की, इसमें पाया गया कि ट्रायल कहीं शुरू नहीं हुआ है. दरअसल, ICMR ने 2 जुलाई को सभी अस्पतालों/ संस्थानों के हेड को चिट्ठी लिखी थी और कहा था कि किसी भी सूरत में 7 जुलाई को ट्रायल की प्रक्रिया शुरू करनी है. ताकि 15 अगस्त तक वैक्सीन तैयार की जा सके. पता चला है कि कहीं एथिक्स कमेटी से मंजूरी नहीं मिली तो तो कहीं वैक्सीन नहीं पहुंचा है. 

गौरतलब है कि ICMR ने सख्त लहजे में कहा था कि अगर इसका पालन नहीं हुआ तो इसको गंभीरता से लिया जाएगा.

वहीं, दुनियाभर में सबसे ज्यादा कोरोनावायरस के मामलों में तीसरे नंबर पर चल रहे भारत में इस वायरस से कुल संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ती ही जा रही है. बुधवार यानी 8 जुलाई को देश में पिछले 24 घंटों में संक्रमण के 22,752 नए केस सामने आए हैं, वहीं 482 लोगों की मौत हुई है. ये नए केस सामने आने के बाद से देश में कोरोनावायरस के कुल 7,42,417 मामले हो गए हैं, वहीं देश में कुल मौत का आंकड़ा 20,642 पर पहुंच गया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

अब तक देश में कोविड-19 से ठीक होने वाले कुल मरीजों की संख्या 4,56,831 हो चुकी है. फिलहाल देश में रिकवरी रेट 61.53% पर चल रहा है. वहीं पॉजिटिविटी रेट 8.66 फीसदी पर है. यानी जितने सैंपलों की टेस्टिंग हो रही है, उसमें से 8.66 फीसदी सैंपल पॉजिटिव आ रहे हैं.

वीडियो: रवीश कुमार का प्राइम टाइम : क्या 15 अगस्त तक कोरोना की दवा खोज लेगा भारत?