Coronavirus: जब लॉकडाउन में पुलिस ने बुज़ुर्ग को रसगुल्ला घर पर लाकर दिया!

लखनऊ के हज़रतगंज इलाके में एक बुजुर्ग रिटायर्ड अफसर को शुगर लेवल कम होने पर पुलिस इंस्पेक्टर ने घर पहुंचकर रसगुल्ले खिलाए

Coronavirus: जब लॉकडाउन में पुलिस ने बुज़ुर्ग को रसगुल्ला घर पर लाकर दिया!

लखनऊ के हज़रतगंज कोतवाली के इंस्पेक्टर संतोष कुमार ने बुजुर्ग को रसगुल्ले खिलाए.

खास बातें

  • बुजुर्ग ने शुगर लेवल कम होने पर पुलिस से मदद मांगी
  • दरवाजे पर इंस्पेक्टर को रसगुल्ला लिए देखा दो चकित रह गए
  • एडिशनल कमिश्नर संजीव नाथ सिन्हा ने इंस्पेक्टर संतोष को शाबाशी दी
लखनऊ:

कभी किसी ने यह सोच भी नहीं होगा कि पुलिस फ़ोन करने पर घर पर रसगुल्ला भी पहुंचा सकती है, लेकिन लखनऊ में यही हुआ. लखनऊ के हज़रतगंज इलाके में 82 साल के एक बुजुर्ग रिटायर्ड अफसर आरपी केसरी ने हज़रतगंज थाने के इंस्पेक्टर को फ़ोन कर कहा कि उनका शुगर लेवल काफी डाउन हो गया है इससे उन्हें Hypoglycemia होने का खतरा है. पहले ऐसा होने पर वे रसगुल्ला खा लेते थे तो शुगर लेवल ठीक हो जाता था, लेकिन कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण को रोकने के लिए किए गए लॉकडाउन के कारण बाजार बंद होने की वजह से वो रसगुल्ला भी नहीं खा सकते.

आरपी केसरी की हैरत का ठिकाना नहीं रहा जब थोड़ी ही देर बाद उन्होंने हज़रतगंज कोतवाली के इंस्पेक्टर संतोष कुमार को रसगुल्ले के साथ अपने दरवाजे पर देखा.

लखनऊ के कमिश्नर सुजीत पांडेय ने कहा कि "इससे अधिक खुशी की बात नहीं हो सकती कि हम मेहनत भी कर रहे हैं, ड्यूटी भी कर रहे हैं, खाना भी खिला रहे हैं, पानी भी पिला रहे हैं, रसगुल्ला भी खिला रहे हैं, खून भी दे रहे हैं."

इलाके के एडिशनल कमिश्नर संजीव नाथ सिन्हा ने पूरी घटना मीडिया को बताई और अपने इंस्पेक्टर को शाबासी दी.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com