NDTV Khabar

मेजर रैंक के 2 अधिकारियों के खिलाफ कोर्ट मार्शल का आदेश, अवैध संबंधों की वजह से हुई कार्रवाई

भारतीय सेना ने मेजर रैंक के 2 अधिकारियों पर कड़ा फैसला लिया है और उनके कोर्ट मार्शल का आदेश दिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मेजर रैंक के 2 अधिकारियों के खिलाफ कोर्ट मार्शल का आदेश, अवैध संबंधों की वजह से हुई कार्रवाई

खास बातें

  1. मेजर रैंक के 2 अधिकारियों पर सेना ने लिया कड़ा फैसला
  2. अवैध संबंधों की वजह से कोर्ट मार्शल का आदेश
  3. पुरुष अधिकारी की पत्नी ने अवैध संबंधों की लिखित शिकायत की थी
नई दिल्ली:

भारतीय सेना (Indian Army) ने मेजर रैंक के 2 अधिकारियों पर कड़ा फैसला लिया है और उनके कोर्ट मार्शल का आदेश दिया है. कश्मीर में एक महिला अधिकारी और एक पुरूष अधिकारी के बीच अवैध संबंधों की वजह से सेना ने ये कार्रवाई की है. इनमें महिला अधिकारी सेना की खुफिया इकाई में तैनात है, वहीं पुरुष अधिकारी स्पेशल फोर्सेज से है. इनके खिलाफ कोर्ट मार्शल की कार्रवाई  22 मई से शुरू होगी. यह मामला तब जानकारी में आया जब पुरूष अधिकारी की पत्नी ने दोनों के बीच अवैध संबंधों की लिखित शिकायत सेना प्रमुख जनरल विपिन रावत से की. इतना ही नही मेजर की पत्नी ने आर्मी वाइव्स वेलफेयर एसोसिएशन में भी यह शिकायत की. सूत्रों से मिली सूचना के मुताबिक मेजर की पत्नी ने दोनों के अंतरंग पलों की रिकॉर्डिंग, फोटोग्राफ्स और वीडियो भी सबूत के तौर पर अपनी शिकायत के साथ भेजे हैं.

ये भी पढ़ें: भारत का अनुबंध मिला तो दूसरे देश को एफ-21 की बिक्री नहीं की जाएगी : लॉकहीड मार्टिन


सूत्रों के मुताबिक दोनों की मुलाकात हिजबुल आतंकी बुरहान वानी के खिलाफ चलाए गए ऑपरेशन के दौरान कश्मीर में हुई थी. उस दौरान महिला मेजर अधिकारी सेना की नॉदर्न कमांड में काउंटर इंटेलिजेंस ऑफिसर के रूप में तैनात थी, जबकि पुरुष अधिकारी आतंकियों के खिलाफ कश्मीर में सेना की राष्ट्रीय राइफल्स में तैनात था. अब इस मामले में आर्मी एक्ट के सेक्शन 45 के तहत कोर्ट मार्शल का आदेश दिया गया है.  

टिप्पणियां

ये भी पढ़ें: जम्मू में सेना के शिविर के बाहर हिरासत में लिया गया संदिग्ध युवक, पहचान साबित करने में रहा नाकाम

इसके अनुसार ऑफिसर के पद पर रहते हुए इस तरह का चरित्र और व्यवहार स्वीकार्य नहीं है. साथ में ऐसे किसी भी अवैध संबंध में लिप्त होना नैतिक पतन और गंभीर अपराध माना जाता है. जानकारों का कहना है कि ऐसी घटना में संबंधित अधिकारियों की नौकरी जा सकती है. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement