COVID-19 प्रभाव: 180 ट्रेनी केबिन क्रू सदस्यों को नौकरी नहीं देगी एयर इंडिया, पेशकश वापस ली

कोविड-19 महामारी की वजह से देश के विमानन क्षेत्र में छाई सुस्ती के बीच राष्ट्रीय विमानन कंपनी एयर इंडिया ने 180 प्रशिक्षु केबिन क्रू सदस्यों से नौकरी की पेशकश वापस ले ली है.

COVID-19 प्रभाव: 180 ट्रेनी केबिन क्रू सदस्यों को नौकरी नहीं देगी एयर इंडिया, पेशकश वापस ली

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली:

कोविड-19 महामारी की वजह से देश के विमानन क्षेत्र में छाई सुस्ती के बीच राष्ट्रीय विमानन कंपनी एयर इंडिया ने 180 प्रशिक्षु केबिन क्रू सदस्यों से नौकरी की पेशकश वापस ले ली है. एयरलाइन के एक अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी. अधिकारी ने कहा, ‘‘एयर इंडिया ने 180 प्रशिक्षुओं से नौकरी की पेशकश वापस ले ली है. प्रशिक्षण पूरा होने के बाद इन्हें एयर इंडिया में नौकरी पर रखा जाना था.'' ऐसे ही एक प्रशिक्षु को छह जुलाई को भेजे पत्र में एयरलाइन ने कहा, ‘‘विमानन क्षेत्र की मौजूदा स्थिति को देखते हुए एयर इंडिया द्वारा आपकी सेवाएं लेने के लिए आगे और प्रशिक्षण देना संभव नहीं है.''

Newsbeep

पत्र में कहा गया है कि उपरोक्त कारण, जो कंपनी के नियंत्रण से बाहर हैं, के मद्देनजर हमने आपका प्रशिक्षण बंद करने और आगे सेवाओं की पेशकश को तत्काल प्रभाव से वापस लेने का फैसला किया है.‘‘ पत्र में कहा गया है कि प्रशिक्षुओं ने प्रशिक्षण शुरू होते समय जो बैंक गारंटी जमा कराई थी, उसे वापस किया जा रहा है. इस बारे में पूछे जाने पर एयर इंडिया के प्रवक्ता ने कहा कि यह आंतरिक मामला है, जिसपर एयरलाइन टिप्पणी नहीं करेगी. कोरोना वायरस की वजह से देश और विदेश में यात्रा अंकुशों की वजह से विमानन क्षेत्र बुरी तरह प्रभावित हुआ है. देश में सभी एयरलाइन कंपनियों ने लागत कटौती के लिए कर्मचारियों के वेतन में कटौती और छंटनी जैसे कदम उठाए हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


देश में 25 मार्च को लॉकडाउन लगा था. घरेलू उड़ान सेवाएं दो माह बाद 25 मई से फिर शुरू हुईं. हालांकि, एयरलाइंस को अपनी कोविड पूर्व की क्षमता के 45 प्रतिशत पर परिचालन की अनुमति है. कुल सीटों की बुकिंग करीब 50-60 प्रतिशत है.