एम्‍स के सेनिटाइजेशन सुपरवाइजर हीरालाल की कोरोना वायरस से मौत, बीमार होने तक एक भी दिन की नहीं ली थी छुट्टी

हीरालाल पूरे AIIMS के सफ़ाई के इंचार्ज थेऔर वायरस संक्रमण के बाद उन्‍हें एम्स ट्रॉमा सेंटर में एडमिट किया गया था. उन्हें वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया था, जहां सोमवार को उनकी मौत हो गई. हीरालाल ने कोरोना के चलते तबियत ख़राब होने तक एक भी दिन छुट्टी नहीं ली थी. 

एम्‍स के सेनिटाइजेशन सुपरवाइजर हीरालाल की कोरोना वायरस से मौत, बीमार होने तक एक भी दिन की नहीं ली थी छुट्टी

हीरालाल को एम्स ट्रॉमा सेंटर में एडमिट किया गया था

नई दिल्ली:

Covid-19 Pandemic: ऑल इंडिया इंस्‍टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (AIIMS) के सेनिटाइजेशन सुपरवाइजर हीरालाल की कोरोना वायरस के कारण मौत हो गई. वे पूरे AIIMS के सफ़ाई के इंचार्ज थे और वायरस संक्रमण के बाद उन्‍हें एम्स ट्रॉमा सेंटर में एडमिट किया गया था. उन्हें वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया था, जहां सोमवार को उनकी मौत हो गई. हीरालाल ने कोरोना के चलते तबियत ख़राब होने तक एक भी दिन छुट्टी नहीं ली थी. एम्स के सफ़ाई कर्मचारियों ने हीरालाल की मौत पर सवाल उठाते हुए आरोप लगाया है कि उनकी जांच समय पर नहीं हुई. सफाई कर्मचारियों ने हीरालाल के परिवार को 1 लाख रुपये का मुआवजा दिए जाने की मांग की है.

गौरतलब है कि भारत में कोरोनावायरस (Coronavirus) के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं. देश में कोरोना (Covid-19) संक्रमितों का कुल आंकड़ा डेढ़ लाख के पार पर पहुंच गया है. स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry) की ओर से आज जारी आंकड़ों के मुताबिक, भारत में कोरोनावायरस मरीज़ों की कुल संख्या 1,51,767 हो गई है और जबकि इस वायरस से अब तक 4,337 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं, पिछले 24 घंटों में कोरोना के 6,387 नए मामले सामने आए हैं और 170 लोगों की जान गई है. हालांकि, राहत की बात यह है कि 64,426 मरीज़ कोरोना को मात देने में कामयाब हुए हैं. रिकवरी रेट 42.45 प्रतिशत पर पहुंच गया है. 

VIDEO: लॉकडाउन में शराब की दुकानों को बंद करने से सुप्रीम कोर्ट का इंकार

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com