दिल्‍ली सरकार के फैसले को पलटने के लिए गौतम गंभीर ने की LG अनिल बैजल की सराहना, कहा-हमें मिलकर...

गौतम गंभीर ने एक ट्वीट करके कहा, 'दिल्ली सरकार के अन्य राज्यों के रोगियों का इलाज नहीं करने के मूर्खतापूर्ण आदेश को खत्म करने के लिए LG की ओर से उत्कृष्ट कदम! भारत एक है और हमें मिलकर इस कोरोना वायरस की महामारी से लड़ना है!'

दिल्‍ली सरकार के फैसले को पलटने के लिए गौतम गंभीर ने की LG अनिल बैजल की सराहना, कहा-हमें मिलकर...

गौतम गंभीर ने कहा, भारत एक है और हमें मिलकर इस कोरोना वायरस की महामारी से लड़ना है

नई दिल्ली:

Covid-19 Pandemic: दिल्ली के उप राज्यपाल अनिल बैजल (LG Anil Baijal) ने अरविंद केजरीवाल के नेतृत्‍व वाली सरकार (Arvind Kejriwal) के उस फैसले को पलट दिया, जिसमें कहा गया था कि दिल्ली के सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में अब सिर्फ दिल्लीवालों का ही इलाज होगा. दिल्ली में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच दिल्ली कैबिनेट ने रविवार को फैसला लिया था कि दिल्ली सरकार के सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में अब केवल दिल्ली के निवासियों का इलाज होगा जबकि केंद्र सरकार के अस्पतालों में सभी का इलाज होगा. केजरीवाल सरकार के इस निर्णय को एक दिन बाद ही LG ने दरकिनार कर दिया है. इस फैसले से दिल्‍ली की सियासत में 'घमासान' तेज होने की संभावना है. पूर्व क्रिकेटर और बीजेपी सांसद गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने उप राज्‍यपाल के इस फैसले का स्‍वागत किया है.

टीम इंडिया के बेहतरीन ओपनर रहे गौतम गंभीर ने एक ट्वीट करके कहा, 'दिल्ली सरकार के अन्य राज्यों के रोगियों का इलाज नहीं करने के मूर्खतापूर्ण आदेश को खत्म करने के लिए LG की ओर से उत्कृष्ट कदम! भारत एक है और हमें मिलकर इस कोरोना वायरस की महामारी से लड़ना है!'

गौरतलब है कि दिल्ली में कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. पिछले कुछ दिनों से देश की राजधानी में रोजाना एक हजार से अधिक कोरोना केस आ रहे हैं और यहां कोविड-19 संक्रमितों का आंकड़ा 27 हजार के पार हो गया है. दिल्ली में बढ़ते कोरोना के मामलों के बीच दिल्ली कैबिनेट ने रविवार को फैसला लिया था कि दिल्ली सरकार के और प्राइवेट अस्पतालों में केवल दिल्ली के निवासियों का इलाज होगा जबकि केंद्र सरकार के अस्पतालों में सभी का इलाज होगा. दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कांफ्रेंस कर इसकी जानकारी दी थी. केजरीवाल के अनुसार दिल्ली में जून के आखिरी तक 15 हजार बेड की जरूरत होगी, जबकि हमारे पास सिर्फ 10 हजार बेड हैं. ऐसे में अस्पतालों को सबके लिए खोला जाना संभव नहीं होगा. बहरहाल, दिल्‍ली सरकार के इस फैसले को एक दिन बाद यानी सोमवार को ही एलजी अनिल बैजल ने पलट दिया है. 

VIDEO: NDTV की खबर पर हाईकोर्ट का संज्ञान, मरीज को वेंटिलेटर न मिलने का मामला

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com