दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने एक शख्स को किया गिरफ्तार, अपने आप को बताता था गृहमंत्री का पर्सनल सेक्रेटरी

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने अभिषेक द्विवेदी नामक एक शख्स को गिरफ्तार किया है. 3 जुलाई 2020 को गृह मंत्री कार्यालय से एक शिकायत प्राप्त हुई थी जिसमें यह बताया गया कि एक व्यक्ति अपने आप को गृह मंत्री का पर्सनल सेक्रेटरी बताकर कई विभागों में फोन कर रहा है.

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने एक शख्स को किया गिरफ्तार, अपने आप को बताता था गृहमंत्री का पर्सनल सेक्रेटरी

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने आरोपी अभिषेक द्विवेदी को गिरफ्तार कर लिया है

नई दिल्ली:

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने अभिषेक द्विवेदी (Abhishek Dwivedi) नामक एक शख्स को गिरफ्तार किया है. 3 जुलाई 2020 को गृह मंत्री कार्यालय से एक शिकायत प्राप्त हुई थी जिसमें यह बताया गया कि एक व्यक्ति अपने आप को गृह मंत्री का पर्सनल सेक्रेटरी बताकर कई विभागों में फोन कर रहा है. शिकायत के अनुसार रोड ट्रांसपोर्ट मिनिस्टर के कार्यालय में उसने फोन किया और एक व्यक्ति जो बतौर परिवहन निरीक्षक, ग्वालियर परिवहन कार्यालय में कार्यरत है,और जिस का तबादला दूसरे जिले में कर दिया गया है , उसे रुकवाने  का आग्रह  किया था.

शक होने पर असिस्टेंट पर्सनल सेक्रेटरी (Assistant Personal Secretary) सड़क परिवहन मंत्री ने गृहमंत्री के पर्सनल सचिव को इस बाबत सूचना दी. जिसके बाद पर्सनल सचिव द्वारा दिल्ली पुलिस आयुक्त को शिकायत की गयी. जिसके बाद दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरु कर दिया. 

पुलिस जांच के दौरान यह पता चला कि जिस व्यक्ति ने सड़क परिवहन मिनिस्टर के सचिव को फोन किया था वह व्यक्ति अभिषेक द्विवेदी  है और वो रीवा जिला  मध्य प्रदेश का मूल निवासी है. वह व्यक्ति वर्तमान समय में नवी मुंबई में बतौर किराएदार रह रहा है और इस तरह की अपराधिक  घटनाओं में लिप्त है. इस व्यक्ति का पुराना अपराधिक रिकॉर्ड है और अपने एक साथी के साथ जिसका नाम विनय सिंह बघेल है उसने इस काम को अंजाम दिया. फोन करते वक्त वह नवी मुंबई में था और वहां से अपने साथी के साथ बेंगलुरु चला गया. बाद में जब दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच  ने मुंबई में दबिश दी तो यह व्यक्ति मुंबई से फरार हो गया.

Newsbeep

काफी प्रयास के बाद इसका पता चला कि यह इंदौर में मौजूद है जहां इंदौर पुलिस की मदद से इसे गिरफ्तार किया गया. अभिषेक जिस मोबाइल फोन का इस्तेमाल कर रहा था वह बरामद कर लिया गया है. और उसमें जो कॉल उसने ए पी एस सड़क परिवहन मंत्री को किया था उसका भी उसका भी विवरण मिला है. अभी तक की जांच में यह पता चला है अभिषेक द्विवेदी ने अपने दोस्त विनय सिंह बघेल के कहने पर यह फोन किया था और अपने आप को गृह मंत्री का पर्सनल सचिव  बता रहा था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com