छत्तीसगढ़ में सीआरपीएफ और नक्सलियों में मुठभेड़, सीआरपीएफ का एक जवान शहीद

उपमहानिरीक्षक (नक्सल रोधी अभियान) पी सुंदरराज ने बताया कि पामेड़ क्षेत्र में सुबह चार बजे सीआरपीएफ के विशेष कोबरा बटालियन और राज्य पुलिस के संयुक्त अभियान के दौरान नक्सलियों से मुठभेड़ हुई.

छत्तीसगढ़ में सीआरपीएफ और नक्सलियों में मुठभेड़, सीआरपीएफ का एक जवान शहीद

छत्तीसगढ़ में सीआरपीएफ और नक्सलियों में मुठभेड़

बीजापुर:

बीजापुर में गुरुवार को सीआरपीएफ और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई. मुठभेड़ में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) का एक जवान शहीद हो गया. पुलिस सूत्रों ने बताया कि गोलीबारी में कुछ माओवादियों के मारे जाने की भी आशंका है. सुरक्षाबल क्षेत्र में खोजी अभियान चला रहे हैं. उपमहानिरीक्षक (नक्सल रोधी अभियान) पी सुंदरराज ने बताया कि पामेड़ क्षेत्र में सुबह चार बजे सीआरपीएफ के विशेष कोबरा बटालियन और राज्य पुलिस के संयुक्त अभियान के दौरान नक्सलियों से मुठभेड़ हुई. सुंदरराज ने कहा, "मुठभेड़ में सीआरपीएफ की 151वीं बटालियन के कांस्टेबल 'कामता प्रसाद' गोली लगने से घायल हो गए. बाद में पड़ोस के तेलंगाना स्थित चेर्ला अस्पताल ले जाते समय उनकी मौत हो गई".

Newsbeep

शहीद तीस वर्षीय कामता प्रसाद 2011 में सीआरपीएफ में भर्ती हुए थे, वह उत्तर प्रदेश के कौशांबी जिले के रहने वाले थे. उपमहानिरीक्षक ने बताया कि गश्त पर निकला सुरक्षाबलों का दल जब जेरापल्ली गांव के पास एक जंगल की घेराबंदी कर रहा था, तभी नक्सलियों के एक समूह ने उन पर गोलीबारी शुरू कर दी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


जिसके बाद दोनों तरफ से मुठभेड़ शुरू हो गई. उन्होंने कहा कि नक्सली घटनास्थल से भाग निकलने में कामयाब रहे. क्षेत्र में नक्सलियों की खोज जारी है. आपको बता दें कि गत मंगलवार को दंतेवाड़ा जिले में हुई मुठभेड़ में दो माओवादी मारे गए थे.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)