NDTV Khabar

सीआरपीएफ जवान का आरोप, पुलिसकर्मियों ने उन पर हमला किया

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने जवान अशोक इंगवाले द्वारा लगाये गए इस आरोप को सिरे से खारिज कर दिया है. इंगवाले वर्तमान में छुट्टी पर हैं.

13 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
सीआरपीएफ जवान का आरोप, पुलिसकर्मियों ने उन पर हमला किया

प्रतीकात्मक चित्र

नई दिल्ली:

सीआरपीएफ के 28 वर्षीय एक जवान ने आरोप लगाया है कि महाराष्‍ट्र के बारामती तालुका में रविवार को पुलिस कर्मियों ने बगैर उकसावे के उस पर तब ‘हमला' किया और ‘उसे हथकड़ी' लगा दी जब वह पुलवामा आतंकवादी हमले में शहीद सीआरपीएफ के 40 जवानों के लिए शोकसभा के लिए उन्हें बुलाने गया था. हालांकि, पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने जवान अशोक इंगवाले द्वारा लगाये गए इस आरोप को सिरे से खारिज कर दिया है. इंगवाले वर्तमान में छुट्टी पर हैं. अधिकारी ने उलटे आरोप लगाया कि इंगवाले ने पुलिसकर्मियों के साथ झगड़ा किया. घटना पुणे के बागमती ग्रामीण पुलिस थाने में हुई. इंगवाले ने दावा किया कि वह जम्मू कश्मीर में तैनात हैं. इंगवाले ने कहा कि वह अपने गांव के एक छोटे मंडल (सामुदायिक समूह) का सदस्य है.

पुलवामा आतंकवादी हमला किसी एक व्यक्ति का काम नहीं : रॉ के पूर्व प्रमुख


आगामी मंगलवार को शिव जयंती कार्यक्रम के दौरान सीआरपीएफ के शहीद कर्मियों के लिए एक शोकसभा का आयोजन करने का निर्णय किया गया था. उन्होंने कहा, ‘‘रविवार दोपहर, मैं अपने रिश्ते के एक भाई, जो हाल में सेना से सेवानिवृत्त हुए हैं और एक अन्य युवक के साथ 19 फरवरी के कार्यक्रम के लिए बारामती थाने के वरिष्ठ अधिकारियों को आमंत्रित करने के लिए गया.'' उन्होंने कहा, ‘‘कुछ कर्मियों ने हमें रोका और उन्होंने धमकाने वाली तथा अहंकारपूर्ण भाषा में बात की.'' इंगवाले वर्दी में दो अन्य लोगों के साथ दो पहिया वाहन पर थाना गए थे. उन्होंने दावा कि कि उन्होंने अपना पहचान पत्र पुलिसकर्मियों को दिखाया और एक मोटरसाइकिल पर तीन लोगों के सवार होने के चलते जुर्माना भरने की भी पेशकश की, लेकिन पुलिस कर्मियों ने उनकी बात नहीं सुनी.

मरने से पहले आतंकवादि‍यों का सबसे बड़ा डर बता गया आदिल अहमद डार...

उन्होंने बताया, ‘‘उन्होंने (पुलिसकर्मियों) ने आरोप लगाया कि मैं शराब पीया हुआ हूं. इसके बाद पुलिसकर्मी मुझे एक कमरे में ले गए, जहां कोई सीसीटीवी कैमरा नहीं था. वहां 10-15 पुलिस कर्मियों ने मुझे पीटा. मेरी वर्दी फाड़ दी गई और मुझे हथकड़ी लगा दी गई.'' सीआरपीएफ कर्मी ने पुलिसकर्मियों पर अपशब्द कहे जाने का भी आरोप लगाया. हालांकि, इंगवाले ने इस बात से इनकार किया कि वह शराब पीए हुए थे. उन्होंने कहा कि उन्होंने बारामती थाने में पुलिस की ‘ज्यादती' के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संदीप पाखले ने इंगवाले के आरोपों से इनकार किया. उन्होंने कहा कि इंगवाले ट्रिपल राइडिंग कर रहे थे, जब थाने में पुलिस कर्मियों ने उन्हें रोका तो उन्होंने ही धमकाने वाली भाषा का इस्तेमाल किया. पाखले ने कहा, ‘‘जब उन्हें थाने के अंदर लाया गया तो वह पुलिस कर्मियों से उलझ गए और कुर्सियों को क्षतिग्रस्त कर दिया.'' उन्होंने दावा किया कि इंगवाले यह दिखाने के लिए खुद हिरासत में चले गए कि उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है.

पुलवामा आतंकी हमला: जवानों की जुबानी- CRPF काफिले पर कैसे हुआ अटैक

पाखले ने कहा कि जब उन्हें एहसास हुआ कि इस हंगामे से उनकी नौकरी जा सकती है तब उन्होंने पुलिसकर्मियों पर उनपर हमला करने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा, ‘‘हमारे पास सीसीटीवी फुटेज है जिसमें दिख रहा है कि वह खुद ही अपने कपड़े फाड़ रहे हैं.'' अधिकारी ने कहा कि पुलिस ने इंगवाले से यह भी पूछा है कि जब वह छुट्टी पर थे तो उन्होंने वर्दी क्यों पहनी हुई थी. उन्होंने कहा, ‘‘हम यह पता लगाने का प्रयास कर रहे हैं कि वास्तव में क्या हुआ था.'' इस बीच राकांपा नेता अजित पवार ने घटना की कड़ी निंदा की और कहा कि यह भाजपा शासित राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति को दिखाती.

टिप्पणियां

 

उन्होंने जिले में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘यदि इसमें कोई सच्चाई है तो मैं पुलिस कार्रवाई की निंदा करता हूं. हमारी रक्षा करने वाले सैनिकों को यदि इस तरह से पीटा जा रहा है तो यह राज्य में कानून एवं व्यवस्था की स्थिति दिखाता है.'' राज्य के पूर्व उप मुख्यमंत्री ने कहा कि दोषी को सजा मिलनी चाहिए. उन्होंने कहा, ‘‘मैं कल पुणे के पुलिस अधीक्षक से मुलाकात करूंगा और यदि जरूरत पड़ी तो राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से भी मिलूंगा और उनसे पुलिस विभाग पर उनके नियंत्रण के बारे में पूछूंगा.'' संयोगवश इंगवाले ने कहा कि उन्होंने रविवार सुबह पवार से मुलाकात की और उन्हें कार्यक्रम के लिए आमंत्रित किया.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement