कश्मीर घाटी के अधिकतर हिस्से में सुरक्षा के मद्देनजर कर्फ्यू

कश्मीर घाटी के अधिकतर हिस्से में सुरक्षा के मद्देनजर कर्फ्यू

कश्मीर में तैनात सुरक्षाकर्मी

श्रीनगर:

प्रशासन ने श्रीनगर में अलगाववादियों द्वारा आहूत प्रदर्शनों के मद्देनजर शुक्रवार को कश्मीर घाटी में कर्फ्यू और प्रतिबंध लगा दिया। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया, "श्रीनगर सहित घाटी के अधिकतर हिस्सों में कर्फ्यू और प्रतिबंध लगा है। लोगों को प्रशासन के साथ सहयोग बनाए रखने की सलाह दी गई है।"

घाटी में 21 दिन से लगातार सामान्य जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। अलगाववादियों ने 31 जुलाई तक प्रदर्शनों को बढ़ा दिया है। अलगाववादियों का कहना है कि इस अवधि के दौरान लोगों को शाम सात बजे तक कुछ ही घंटो के लिए खरीदारी जैसी कुछ गतिविधियों की छूट दी गई है। गौरतलब है कि बुधवार को अनंतनाग सहित सिर्फ तीन ही जिलों में कर्फ्यू लगाया गया था।

मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने बुधवार को कहा कि सुरक्षाबलों को अनंतनाग जिले के बस्मडोरा गांव के एक घर के भीतर हिजबुल कमांडर बुरहान वानी के होने के बारे में कोई जानकारी नहीं थी। सुरक्षाबलों ने बुरहान वानी को 8 जुलाई को मार गिराया था।

Newsbeep

महबूबा ने कहा, "यदि सुरक्षाबलों को घर के भीतर बुरहान के होने के बारे में पता होता तो उसे आत्मसमर्पण करने का मौका दिया जाता।" घाटी में उपजे इस उग्र झड़प में अब तक 50 लोगों की मौत हो चुकी है, जिसमें 48 नागरिक और दो पुलिसकर्मी हैं।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)