कई दिनों की अशांति के बाद काफी हद तक शांतिपूर्ण रहा कश्मीर

कई दिनों की अशांति के बाद काफी हद तक शांतिपूर्ण रहा कश्मीर

पुलिस ने कहा कि घाटी में कहीं से भी किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है

श्रीनगर:

कई दिनों की अशांति के बाद कश्मीर गुरुवार को काफी हद तक शांत रहा। पुलिस ने कहा कि घाटी में कहीं से भी किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है। लेकिन, घाटी के चार जिलों में स्कूलों को फिर से खोलने की अनुमति देने के लिए कर्फ्यू में ढील देने की अधिकारियों की पहल काम नहीं आई, भले ही पांच दिनों बाद स्टैंडों पर अखबार दिखाई दिए।

गुरुवार को स्कूल फिर से खुले या नहीं, इस पर अधिकारियों ने कोई टिप्पणी नहीं की। चार जिलों- बांदीपुरा, बारामुला, बडगाम और गांदेरबल से आई रिपोर्टों के मुताबिक, इन जिलों में शैक्षणिक संस्थान बंद रहे।

एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि इन जिलों में कर्फ्यू में ढील दिए जाने के बावजूद धारा 144 लागू रही। घाटी के बाकी छह जिलों में हालांकि कर्फ्यू जारी रहा। उन्होंने कहा कि आज का दिन शांतिपूर्ण बीता और घाटी में कहीं से भी किसी अप्रिय घटना की खबर नहीं आई।

Newsbeep

घाटी में 8 जुलाई को हिजबुल कमांडर बुरहान वानी के एक मुठभेड़ में मारे जाने के बाद प्रदर्शनकारियों और सुरक्षाबलों के बीच टकराव में नागरिकों के मारे जाने के विरोध में जारी प्रदर्शन के चलते आज 13वें दिन सामान्य जनजीवन प्रभावित रहा। इस दौरान घाटी में 43 लोग मारे जा चुके हैं और सैकड़ों की तादाद में लोग घायल हुए हैं। सरकार ने कल अपने पूर्व के आदेश को संशोधित करते हुए आज से इन चार जिलों में स्कूलों को फिर से खोलने की घोषण की। इससे पहले ये स्कूल 18 जुलाई को खोले जाने थे, लेकिन सरकार ने अशांति के मद्देनजर गर्मी की छुट्टियां 25 जुलाई तक के लिए बढ़ा दी थीं।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)