Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

श्रीनगर में भीड़ इकट्ठा होने पर फिर लगा प्रतिबंध, पुलिस ने लोगों से घर लौटने को कहा- दुकान बंद करने की भी अपील: सूत्र

शुक्रवार को जुमे की नमाज से पहले घाटी और पूरे कश्मीर में धारा 144 में ढील दी गई थी, लेकिन एक बार फिर श्रीनगर में कर्फ्यू लगा दिया गया है. सूत्रों ने यह जानकारी दी है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
श्रीनगर में भीड़ इकट्ठा होने पर फिर लगा प्रतिबंध, पुलिस ने लोगों से घर लौटने को कहा- दुकान बंद करने की भी अपील: सूत्र

श्रीनगर में एक बार फिर कर्फ्यू लगा दिया गया है.

खास बातें

  1. श्रीनगर में फिर लगा कर्फ्यू
  2. पुलिस ने लोगों से घर लौटने को कहा
  3. दुकानदारोें से दुकान बंद करने की अपील
नई दिल्ली/श्रीनगर:

जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 (Article 370) हटाए जाने के बाद से ज्यादातर इलाके में धारा 144 लागू है. शुक्रवार को जुमे की नमाज से पहले घाटी और पूरे कश्मीर में धारा 144 में ढील दी गई थी, लेकिन एक बार फिर श्रीनगर में फिर से एक जगह भीड़ इकट्ठा होने पर रोक लगा दी गई है. सूत्रों ने बताया कि पुलिस इलाके में घुम-घुमकर लोगों को घर में रहने की हिदायत दे रही है. जो दुकानें खुली हैं उन दुकानदारों से भी पुलिसवाले दुकान बंद करने की अपील कर रहे हैं. बता दें कि जम्मू कश्मीर में स्थिति शांतिपूर्ण है और राज्य में कहीं से कोई हिंसा नहीं हुई है.

राहुल गांधी ने जम्मू-कश्मीर के हालात पर उठाए सवाल, उधर, पुलिस का दावा- 6 दिन से नहीं दागी एक भी गोली

राज्य के पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने कहा, 'मामूली पथराव के बाद कोई अप्रिय घटना नहीं हुई है. पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने कहा, 'पथराव की मामूली घटना को छोड़कर किसी तरह की अप्रिय घटना की कोई खबर नहीं है, जिससे तत्काल निपट लिया गया था और वहीं रोक दिया गया था.' वहीं राज्य के मुख्य सचिव और डीजीपी ने लोगों से मनगढंत खबरों पर यकीन नहीं करने को कहा है. डीजीपी ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बयान के बाद राज्य की स्थिति के संबंध में यह स्पष्टीकरण दिया. राहुल गांधी ने कहा था कि स्थिति बहुत खराब है. राहुल गांधी के बयान के कुछ ही मिनट बाद श्रीनगर पुलिस ने ट्वीट किया कि स्थिति शांतिपूर्ण है. ट्वीट में कहा गया, 'घाटी में स्थिति आज सामान्य थी.


वहीं, दूसरी तरफ जम्मू कश्मीर पुलिस के आईजीपी एसपी पानी ने एक वीडियो बयान जारी करके बताया कि घाटी में पिछले 7 दिनों से कोई ऐसी घटना नहीं हुई है और वो अंतर्राष्ट्रीय मीडिया से अपील करते हैं कि जिम्मेदारी से खबरों को दिखाएं. पुलिस ने जम्मू कश्मीर में हिंसा की खबरों को लेकर अंतरराष्ट्रीय मीडिया की रिपोर्ट्स को बेबुनियाद बताया. 

कश्मीरी बच्चे और महिला सुरक्षाकर्मी की हाथ मिलाते फोटो हुई वायरल, लोगों ने दिया ये रिएक्शन

टिप्पणियां

घाटी में एक समस्या फोन को लेकर भी है. लोग दूर-दूर से फोन करने बूथ तक पहुंच रहे हैं लेकिन उनका नंबर नहीं आ पा रहा है. एक फोन करने के लिए लोगों को तीन-तीन दिन का इंतज़ार करना पड़ रहा है.

VIDEO: पिछले 6 दिनों में जम्मू-कश्मीर में हिंसा नहीं: DGP



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... Sapna Choudhary 'तेरी आंख्या का यो काजल' बजते ही हुईं आउट ऑफ कंट्रोल, भीड़ में ही करने लगीं डांस- देखें Video

Advertisement