NDTV Khabar

अगले सप्ताह खत्म हो सकता है कांग्रेस में नेतृत्व संकट, सामने आई ये खबर

कांग्रेस पार्टी में नेतृत्व संकट आने वाले दिनों में खत्म हो सकता है. कांग्रेस कार्यसमिति (सीडब्ल्यूसी) अगले सप्ताह कार्यवाहक अध्यक्ष का चुनाव कर सकती है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अगले सप्ताह खत्म हो सकता है कांग्रेस में नेतृत्व संकट, सामने आई ये खबर

कांग्रेस कार्यसमिति (सीडब्ल्यूसी) अगले सप्ताह कार्यवाहक अध्यक्ष का चुनाव कर सकती है.

खास बातें

  1. राहुल गांधी ने अध्यक्ष पद से दे दिया है इस्तीफा
  2. इसके बाद कांग्रेस में नेतृत्व संकट गहरा गया है
  3. पार्टी जल्द चुन सकती है कार्यवाहक अध्यक्ष
नई दिल्ली :

लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद से ही कांग्रेस में उठा-पटक जारी है. पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के इस्तीफे के बाद कांग्रेस में इस्तीफों का सिलसिला चल पड़ा है. ऐसे में संकट और गहरा गया है. हालांकि खबर है कि कांग्रेस पार्टी में नेतृत्व संकट आने वाले दिनों में खत्म हो सकता है. कांग्रेस कार्यसमिति (सीडब्ल्यूसी) अगले सप्ताह कार्यवाहक अध्यक्ष का चुनाव कर सकती है. पार्टी के एक वरिष्ठ सूत्र ने शुक्रवार को बताया कि सीडब्ल्यूसी की बैठक के लिए आने वाले दिनों में एक तारीख तय की जाएगी. दरअसल, आम चुनाव में पार्टी की हार के बाद राहुल गांधी ने पार्टी अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था. इसके बाद कांग्रेस हाल के दिनों में अपने सबसे गंभीर नेतृत्व संकट का सामना कर रही है.  

सोनिया और राहुल गांधी समेत कई कांग्रेस नेताओं ने किया गांधी प्रतिमा के सामने प्रदर्शन


इस बीच बीते दिनों कांग्रेस ने सोनिया गांधी से पार्टी का अंतरिम अध्‍यक्ष बनने की भी अपील की थी. हालांकि उन्होंने यह भूमिका निभाने से इनकार कर दिया था. बता दें कि 72 वर्षीय सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने स्‍वास्‍थ्‍य कारणों से सक्रीय राजनीति में अपनी भूमिका बेहद सीमित कर ली है. उन्‍होंने अपने करीबी सहयोगियों से कहा है कि अस्‍थायी रूप से भी पार्टी के शीर्ष पद को संभालाना संभव नहीं होगा क्‍योंकि यह एक चुनौती होगी. नेतृत्व संकट के बीच, कांग्रेस के पुराने व वरिष्ठ सदस्यों ने संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी से अस्थायी रूप से पद संभालने का आग्रह किया, लेकिन उन्होंने कथित तौर पर खराब स्वास्थ्य का हवाला देते हुए अनुरोध ठुकरा दिया. 

जिन राज्यों में कांग्रेस की सरकार है वहां भी सहज नहीं पार्टी, क्या ये कांग्रेस का सबसे खराब दौर है?

टिप्पणियां

बता दें कि कार्यवाहक अध्यक्ष पद के लिए कई वरिष्ठ नेताओं के नाम आगे चल रहे हैं. इनमें मुकुल वासनिक, मल्लिकार्जुन खड़गे, ज्योतिरादित्य सिंधिया और सुशील कुमार शिंदे शामिल हैं. हालांकि सिंधिया ने कहा कि वह शीर्ष पद की दौड़ में नहीं हैं. पार्टी सूत्र ने कहा कि वासनिक इसके लिए फिट बैठ रहे हैं, क्योंकि वह केवल 59 वर्ष के हैं और दलित भी हैं. (इनपुट- आईएएनएस)

Video: 'सोनिया गांधी हमारी संसदीय दल की अध्यक्ष हैं'



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement