NDTV Khabar

तमिलनाडु-पुदुच्चेरी के लिए राहत की बात, कमज़ोर पड़ रहा है चक्रवाती तूफान नाडा

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
तमिलनाडु-पुदुच्चेरी के लिए राहत की बात, कमज़ोर पड़ रहा है चक्रवाती तूफान नाडा
चेन्नई: बंगाल की खाड़ी में तमिलनाडु और पुदुच्चेरी की ओर बढ़ रहा चक्रवाती तूफान नाडा कमज़ोर पड़ रहा है, और वह संभवतः शुक्रवार तड़के कुड्डलूर में तट से टकराएगा. मौसम कार्यालय का कहना है कि वह इतना हल्का पड़ सकता है कि उसे 'भारी दबाव' कहा जा सके, जो चक्रवाती तूफान की तुलना में कमज़ोर होता है. चक्रवाती तूफान नाडा फिलहाल चेन्नई से लगभग 350 किलोमीटर दूर है, जबकि राजधानी में सुबह से बादल छाए हुए हैं, और कुछ इलाकों में हल्की बूंदाबांदी भी हुई है.

मौसम विभाग ने कहा है कि चेन्नई तथा तमिलनाडु के अन्य तटीय इलाकों में गुरुवार तथा शुक्रवार को ज़्यादा बारिश होने की संभावना है. अगले चीन से चार दिन तक कोहरा छाए रहने की भी भविष्यवाणी की गई है.

नेशनल डिज़ास्टर रेस्पॉन्स फोर्स (एनडीआरएफ) की टीमें कुड्डलूर में तैनात की गई हैं, जो पुदुच्चेरी से लगभग 20 किलोमीटर की दूरी पर है. बुधवार से ही तमिलनाडु तथा पुदुच्चेरी को अलर्ट पर रखा गया था, तथा मछुआरों को समुद्र से वापस बुला लिया गया था.

तमिलनाडु के चेन्नई, नागपट्टिनम, कुड्डलूर जैसे उत्तरी तटीय जिलों तथा पुदुच्चेरी में अगले दो दिन तक स्कूल बंद रहेंगे.

कुड्डलूर में सुबह से ही लगातार बूंदाबांदी जारी है, और प्रशासन को निचले इलाकों से लोगों को निकालने के निर्देश दिए गए हैं. इसके अलावा साइक्लोन शेल्टर तथा आपातकालीन सेवाओं की तैयारी भी पूरी कर ली गई है.

मौसम विभाग ने कहा है कि चक्रवाती तूफान नाडा शुक्रवार को अपने साथ भारी बारिश लेकर आएगा, लेकिन इस बात की संभावना कम है कि यह उतना ही गंभीर होगा, जितना कुछ साल पहले कुड्डलूर में चक्रवाती तूफान ठाणे रहा था.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement