NDTV Khabar

Cyclone Vayu: रातभर में चक्रवात वायु ने बदला रास्ता, समुद्र की तरफ किया रुख, अगले 24-48 घंटे चल सकती है तेज हवा

Cyclone Vayu: इसके मद्देनजर प्रशासन ने करीब तीन लाख लोगों को तटीय क्षेत्रों से हटाकर सुरक्षित जगह पहुंचाया था.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Cyclone Vayu: रातभर में चक्रवात वायु ने बदला रास्ता, समुद्र की तरफ किया रुख, अगले 24-48 घंटे चल सकती है तेज हवा

Vayu Cyclone 2019: चक्रवात को देखते हुए रेलवे ने करीब 100 ट्रेनें रद्द कर दी.

नई दिल्ली:

Cyclone Vayu: चक्रवाती तूफान 'वायु' ने रातभर में अपना रास्ता बदल लिया है. अब चक्रवात ने समुद्र की ओर रुख कर लिया है. हालांकि, नौसेना ने खुद को किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार रखा है. बताया जा रहा है कि क्षेत्र में तेज हवाएं चल सकती हैं. वहीं अगले 24-48 घंटे समुद्र भी उग्र रह सकता है.

नेवी के बयान के अनुसार, पश्चिमी नौसेना कमान मुंबई मानवीय सहायता और आपदा राहत (एचएडीआर) के साथ तैयार है और राहत सामग्रियों को पहले से ही निर्दिष्ट जहाजों पर चढ़ा दिया गया है, जिसे कम समय पर भी मुहैया कराया जा सकता है. नौसेना के जहाजों, विमानों व हेलीकॉप्टरों को मछली पकड़ने वाली नौकाओं को सूचित करने और उन्हें वापस बंदरगाह जाने के लिए कहने के निर्देश दिए गए हैं. इस बीच, भारतीय वायु सेना का सी-17 विमान राष्ट्रीय आपदा अनुक्रिया बल (एनडीआरएफ) के दल के साथ गुजरात के जामनगर पहुंच गया है. नौसेना ने अपने गोताखोर और बचाव टीमों और राहत सामग्रियों, मेडिकल टीमों को मुंबई के भारतीय नौसेना के अस्पताल अश्विनी में जरूरत पड़ने पर नागरिक सहायता के लिए तैयार रखा है. 

गुजरात तट के करीब चक्रवाती तूफान, 10 बड़ी बातें


1.5 लाख से ज्यादा लोग सुरक्षित जगहों पर पहुंचाए गए
गुजरात में सौराष्ट्र क्षेत्र के तटीय जिलों से लगभग 1.5 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है और दो विशेष निकासी ट्रेनों को सेवा में लगाया गया है. चक्रवाती तूफान वायु के राज्य में दस्तक देने के साथ इसकी रफ्तार 150 किमी प्रति घंटा से ज्यादा होने की संभावना है. अधिकारियों ने कहा कि अहमदाबाद के सरदार वल्लभभाई पटेल अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे से सौराष्ट्र के पोरबंदर, दीव, कांडला, मुंद्रा और भावनगर के लिए उड़ान परिचालन को गुरुवार को रद्द कर दिया गया है, जबकि गुजरात के सभी शैक्षणिक संस्थानों को बंद कर दिया गया है. गुजरात तट से पर्यटकों को जल्द से जल्द चले जाने को कहा गया है.दो विशेष निकासी ट्रेनों को सेवा में लगाया गया है. इसमें से एक सौराष्ट्र के ओखा से राजकोट के लिए बुधवार शाम 5.45 बजे और दूसरी शाम 8.05 बजे अहमदाबाद के लिए रवाना हुई. 

मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने संवाददाताओं से कहा कि भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने मंगलवार शाम तक हवा की रफ्तार 120 किमी प्रति घंटे से ज्यादा रहने की जानकारी अपडेट की है और हवा के झोंको की रफ्तार 175 किमी प्रति घंटे हो सकती है. मुख्यमंत्री ने स्टेट इमरजेंसी ऑपरेशंस सेंटर में राज्य प्रशासन के साथ समीक्षा बैठक की है. रूपाणी ने कहा, "हमने पहले केवल कच्चे घरों में रहने वालों को स्थानांतरित करने की योजना बनाई थी, लेकिन चक्रवात के गंभीर होने की आशंका के कारण तटीय गांवों में सभी लोगों को स्थानांतरित करने का फैसला किया. मुख्यमंत्री ने कहा कि ज्यादा से ज्यादा संख्या में लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाने के अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं है. उन्होंने कहा कि सरकार की सफलता तभी होगी, जब कोई जान नहीं जाए. 

चक्रवात वायु: गुजरात में परिवहन सेवाएं और बंदरगाह पर कामकाज रोका गया

मुंबई में 2 जगहों पर होर्डिग गिरीं, 1 की मौत, 3 घायल
इन सबके बीच मुंबई में होर्डिग गिरने की दो अलग-अलग घटनाओं में एक वरिष्ठ नागरिक की मौत हो गई और तीन महिलाएं घायल हो गईं.  बीएमसी आपदा नियंत्रण ने यहां बुधवार को कहा, "चर्चगेट स्टेशन के बाहर एक सीमेंट होर्डिग शीट तेज हवाओं के चलते उखड़ गई और राहगीर के उपर गिर गई जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया. घटना अपराह्न् 12.45 बजे हुई, जब एक भारी होर्डिग अचानक राहगीर मधुकर अप्पा नार्वेकर (62) पर गिर गई. उन्हें छत्रपति शिवाजी टर्मिनस के समीप जी.टी. अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई.  दूसरी घटना में, बांद्रा के बाहर एक भारी एक्रीलिक होर्डिग से एक स्काइवाक उखड़ गया और तीन महिला राहगीरों के उपर गिर गया। घटना अपराह्न् 1.30 बजे के आसपास की है.  तीनों घायलों की पहचान तेजल कदम (27), मलिसा नजारेथ (30), सुलक्षणा वाजे (41) के रूप में हुई है. इन्हें होली फैमिली अस्पताल ले जाया गया है. अधिकारियों के मुताबिक इनकी स्थिति स्थिर बनी हुई है. 

चक्रवात वायु: रेलवे ने 110 ट्रेनें रद्द कीं 
पश्चिम रेलवे ने बुधवार को बताया कि चक्रवात वायु के चलते आने वाली संभावित आपदा को देखते हुये रेलवे ने 70 ट्रेनों को रद्द कर दिया और 28 ट्रेनों को गंतव्य से पहले ही रोकने का फैसला किया है. पश्चिम रेलवे के प्रवक्ता रवींद्र भाखर ने यह जानकरी दी. रेलवे ने ताजा बुलेटिन में बताया कि पश्चिम रेलवे ने चक्रवात वायु से होने वाली संभावित आपदा को देखते हुये मुख्यमार्ग की 110 रेलगाड़ियों को पूरी तरह निरस्त और ऐसी ही 28 ट्रेनों को आंशिक रूप से समाप्त करते हुये गंतव्य से पहले ही रोकने का फैसला किया है. लोगों की दिक्कतों को देखते हुये पश्चिम रेलवे की विशेष राहत ट्रेनें चलाने की योजना है. ये विशेष ट्रेनें गांधीधाम, भावनगर पारा, पोरबंदर, वेरावल और ओखा से प्रत्येक जगह से चलेंगी ताकि वहां से लोगों को निकालने में मदद मिले. इस तूफान के गुरूवार को गुजरात के तट पर टकराने की आशंका है. 

टिप्पणियां

महाराष्ट्र में दिखने लगा 'वायु' चक्रवात का असर, PM मोदी ने आम लोगों से की ये अपील

Video: अरब सागर से उठा चक्रवाती तूफ़ान 'वायु' गुजरात तट के क़रीब



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement