NDTV Khabar

राफेल डील : रविशंकर प्रसाद ने राहुल गांधी को कहा- बेशर्म, सुरजेवाला बोले- मोदी बाबा, चालीस चोर

वहीं कांग्रेस की ओर से रणदीप सुरजेवाला ने रविशंकर के आरोपों को जवाब देते हुए कहा कि मोदी सरकार का नाम 'मोदी बाबा चालीस चोर' रख देना चाहिए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राफेल डील : रविशंकर प्रसाद ने राहुल गांधी को कहा- बेशर्म, सुरजेवाला बोले- मोदी बाबा, चालीस चोर

राफेल डील पर बहस अब 'बेशर्म' और 'चोर' शब्दों तक पहुंच गई है.

खास बातें

  1. राफेल डील पर तीखी बहस
  2. एक दूसरे पर आरोप
  3. कांग्रेस ने फिर पूछे सवाल
नई दिल्ली:

राफेल डील पर बीजेपी और कांग्रेस के बीच अब बहस 'चोर' और 'बेशर्म' तक पहुंच गई है. सोमवार को बीजेपी ने आरोप लगाया था कि यूपीए सरकार के समय डील इसलिये रोक दी गई थी क्योंकि रॉबर्ट वाड्रा के दोस्त की कंपनी को शामिल नहीं किया गया था इसलिए अब दसॉल्ट से बदला लेने के लिए कांग्रेस राफेल सौदे को रद्द करवाना चाहती है. वहीं आज कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने एनडीटीवी से बातचीत में कहा, 'राहुल गांधी बेशर्म हैं. हमारा साफ आरोप है कि राहुल गांधी के परिवार को कमीशन नहीं मिला इसलिये यूपीए सरकार ने राफेल डील को रोक दिया.  एनडीटीवी से बातचीत में प्रसाद ने कहा, राहुल गांधी बेशर्म और गैर-जिम्मेदार हैं. आजाद भारत के बाद कभी किसी राष्ट्रीय नेता ने क्या पीएम के खिलाफ ऐसी भाषा का इस्तेमाल किया है. राफेल डील को 2012 में फाइनल किया गया था फिर 5 महीने बाद उसे क्यों रोक दिया गया. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि राहुल गांधी का परिवार बिना कमीशन के कोई काम नहीं करता है चाहे वो बोफोर्स हो या 2 जी हो या कोयला घोटाला हो. 

BJP का हमला, राफेल सौदे को रद्द कराकर जीजा रॉबर्ट वाड्रा को फायदा पहुंचाना चाहते हैं राहुल गांधी


वहीं कांग्रेस की ओर से रणदीप सुरजेवाला ने रविशंकर के आरोपों को जवाब देते हुए कहा कि मोदी सरकार का नाम 'मोदी बाबा चालीस चोर' रख देना चाहिए. उन्होंने कहा 'चोर मचाए शोर', चोर ज्यादा शोर मचाता है सुरजेवाला ने कहा रविशंकर प्रसाद पर निशाना साधते हुए कहा कि सरकार के 'गैर-कानूनी मंत्री' राफेल घोटाले का जवाब गाली गलौज से दे रहे हैं. क्या तर्क का जवाब कुतर्क से दे सकते हैं? गाली से दे सकते हैं? उन्होंने कहा कि बीजेपी पाकिस्तान की आड़ क्यों ले रही हैं?

जानिए राफेल डील में अनिल अंबानी की फर्म को क्यों दसॉल्ट ने चुनाः सूत्र

टिप्पणियां

कांग्रेस प्रवक्ता ने सवाल उठाते हुए कहा, 'राफेल विमान की कीमत कैसे बढ़ गई, ठेका HAL की जगह अंबानी को कैसे मिल गया. मोदी को बताना होगा कि वो देश के पीएम हैं या अंबानी के. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने ठेका सरकारी कम्पनी को दिया था ना कि किसी निजी व्यक्ति को जबकि मोदी सरकार ने ऐसा किया है. 'मोदी बाबा और चालीस चोर जवाब कब देंगे'?

राफेलः कांग्रेस ने कहा-यूपीए ने सरकारी कंपनी तो मोदी सरकार ने अंबानी को दिया ठेका
 
 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement