रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह आज LOC पर फॉरवर्ड एरिया के दौरे पर, बाबा अमरनाथ के भी करेंगे दर्शन

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह आज कश्मीर में एलओसी पर फॉरवर्ड एरिया का दौरा करेंगे. वहां वह पाकिस्तान की ओर से जारी युद्धविराम उल्लंघन का जायजा लेंगे.

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह आज LOC पर फॉरवर्ड एरिया के दौरे पर, बाबा अमरनाथ के भी करेंगे दर्शन

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह दो दिवसीय दौरे पर हैं. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • दो दिवसीय दौरे पर हैं रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह
  • पहले दिन लेह के दौरे पर थे रक्षा मंत्री
  • बाबा अमरनाथ के दर्शन करने जाएंगे रक्षा मंत्री
श्रीनगर:

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) दो दिवसीय लेह (Leh) और जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) के दौरे पर हैं. शुक्रवार को दौरे के पहले दिन वह लेह गए थे और सुरक्षा व्यवस्थाओं का जायजा लिया था. आज (शनिवार) उनके दौरे का दूसरा दिन है. रक्षा मंत्री आज कश्मीर में एलओसी पर फॉरवर्ड एरिया का दौरा करेंगे. वहां वह पाकिस्तान की ओर से जारी युद्धविराम उल्लंघन का जायजा लेंगे. राजनाथ सिंह बाबा अमरनाथ (Amarnath Yatra) के दर्शन करने भी जाएंगे. दोपहर बाद रक्षा मंत्री दिल्ली लौट आएंगे.

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह शुक्रवार को लेह और जम्मू-कश्मीर के दो दिवसीय दौरे के लिए सबसे पहले लेह पहुंचे थे. रक्षा मंत्री के इस दौरे में सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे (Manoj Mukund Naravane) और चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत (Bipin Rawat) भी उनके साथ हैं. राजनाथ सिंह लेह में भी फॉरवर्ड एरिया में गए थे. वहां उन्होंने जवानों से मुलाकात कर LAC पर सुरक्षा हालात का जायजा लिया था.

इस दौरान उन्होंने सैनिकों को संबोधित करते हुए भारत-चीन सीमा विवाद पर कहा, 'अब तक जो भी बातचीत हुई है, मामला सुलझ जाना चाहिए लेकिन किस हद तक इसे हल किया जाएगा, मैं गारंटी नहीं दे सकता. हालांकि, मैं आपको आश्वस्त करना चाहता हूं कि हमारी जमीन का एक इंच भी दुनिया की किसी भी शक्ति द्वारा नहीं लिया जा सकता है. भारत दुनिया का एकमात्र देश है जिसने दुनिया को शांति का संदेश दिया है. हमने पहले कभी किसी देश पर हमला नहीं किया है और कभी किसी देश की जमीन पर दावा नहीं किया है. भारत इस संदेश में विश्वास करता है कि दुनिया एक परिवार है.'

राजनाथ सिंह ने आगे कहा, 'हमें अपनी सेना पर गर्व है. मुझे गर्व है कि मैं अपने जवानों के बीच खड़ा हूं. हमारे जवानों ने देश के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर कर दिया है. सभी 130 करोड़ भारतीय इस नुकसान से दुखी हैं. आज हम लद्दाख में खड़े हैं. मैं भी उन लोगों को श्रद्धांजलि देना चाहता हूं, जो कारगिल युद्ध के दौरान ड्यूटी के दौरान मारे गए थे. हमें अपने जवानों की बहादुरी पर गर्व है.' इस दौरान उन्होंने गलवान घाटी हिंसा में शहीद हुए जवानों को भी श्रद्धांजलि अर्पित की.

Newsbeep

VIDEO: बातचीत से कितना हल निकलेगा, अभी कह नहीं सकते : राजनाथ सिंह

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com