दिल्ली: रेप और हमले की शिकार बच्ची के परिवार को 'आप' विधायक आतिशी ने सौंपा दस लाख का चेक

आतिशी ने कहा कि वह कोई हैवान ही है जिसने 12 साल की मासूम के साथ इतनी अमानवीय और हैवानियत भरी घटना को अंजाम दिया

दिल्ली: रेप और हमले की शिकार बच्ची के परिवार को 'आप' विधायक आतिशी ने सौंपा दस लाख का चेक

आम आदमी पार्टी की विधायक आतिशी ने पीड़ित बच्ची के परिवार को चेक सौंपा.

नई दिल्ली:

आम आदमी पार्टी की वरिष्ठ नेता एवं विधायक आतिशी ने शनिवार को एम्स में मौत से लड़ रही मासूम बच्ची के परिजनों से मुलाकात की और उन्हें मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के वादे के मुताबिक 10 लाख रुपये की सहायता राशि का चेक सौंपा. विधायक आतिशी ने बताया कि बच्ची अभी भी न्यूरो सर्जरी वार्ड में है और उसकी हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है. हम उसके जल्द से जल्द ठीक होने की प्रार्थना करते हैं. उन्होंने कहा कि कोई हैवान ही होगा, जिसने 12 साल की इस मासूम बच्ची के साथ इतनी अमानवीय और हैवानियत भरी घटना को अंजाम दिया. 

एम्स अस्पताल में भर्ती 12 साल की उस मासूम बच्ची के परिवार से मिलने के पश्चात एक बयान जारी करते हुए आम आदमी पार्टी की वरिष्ठ नेता आतिशी ने बताया कि परिवार बेहद दुख और परेशानी में डूबा हुआ है. मैंने बच्ची के परिजनों से बात की और मैंने उनको बताया है कि दिल्ली सरकार हर तरह से आपके साथ खड़ी है. हम अच्छे से अच्छा वकील उनको मुहैया कराएंगे और हमारी पूरी कोशिश रहेगी कि जल्द से जल्द और कड़ी से कड़ी सजा उन दरिंदों को मिले.

उन्होंने बताया कि बच्ची अभी भी न्यूरो सर्जरी वार्ड में है और बच्ची की हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है. आतिशी ने कहा कि हम ईश्वर से प्रार्थना करते हैं और दिल्ली व देश की समस्त जनता से भी मेरी यही अपील है कि सभी लोग उस बच्ची के जल्द से जल्द स्वस्थ होने की प्रार्थना ईश्वर से करें. 

Newsbeep

दिल्ली में 12 साल की बच्ची के साथ हैवानियत, हालत गंभीर; महिला आयोग ने पुलिस को जारी किया नोटिस

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


आतिशी ने यह भी कहा कि जैसा कि सभी जानते हैं कि दो दिन पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी बच्ची की हालत का जायजा लेने और परिजनों से मुलाकात करने एम्स अस्पताल पहुंचे थे. वहां मुख्यमंत्री ने परिवार को 10 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने का ऐलान किया था. मुख्यमंत्री के वादे के अनुसार आज हमने उनके परिजनों को 10 लाख रुपये की सहायता राशि का चेक उन्हें सौंप दिया है. उन्होंने कहा कि यह राशि उनके साथ जो घटना घटित हुई है, किसी भी प्रकार से उसकी भरपाई नहीं कर सकती है. परंतु हमारा यह मानना है कि इलाज और सामान्य जीवन की अन्य जरूरतों को पूरा करने में यह राशि सहायक सिद्ध होगी. हमारी कामना है कि जल्द से जल्द वह बच्ची ठीक होकर अपने माता-पिता और अपने परिवार में वापस पहुंचे.