दिल्ली चुनाव को लेकर कांग्रेस का कैंपेन सॉन्ग लॉन्च, जनता को याद दिलाया पूर्व CM शीला दीक्षित का दौर

दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 (Delhi Assembly Elections 2020) को लेकर सभी दलों की तैयारियां पूरी हो चुकी हैं. सभी पार्टियां प्रत्याशियों के नामों का ऐलान कर रही हैं. चुनावी नारे और कैंपेन सॉन्ग लॉन्च किए जा रहे हैं.

दिल्ली चुनाव को लेकर कांग्रेस का कैंपेन सॉन्ग लॉन्च, जनता को याद दिलाया पूर्व CM शीला दीक्षित का दौर

कांग्रेस ने कैंपेन सॉन्ग में पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को याद किया है. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • कांग्रेस पार्टी का कैंपेन सॉन्ग लॉन्च
  • दिल्ली में 8 फरवरी को होगी वोटिंग
  • 11 फरवरी को घोषित होंगे नतीजे
नई दिल्ली:

दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 (Delhi Assembly Elections 2020) को लेकर सभी दलों की तैयारियां पूरी हो चुकी हैं. सभी पार्टियां प्रत्याशियों के नामों का ऐलान कर रही हैं. चुनावी नारे और कैंपेन सॉन्ग लॉन्च किए जा रहे हैं. म्यूजिक डायरेक्टर और सिंगर विशाल डडलानी ने सत्ताधारी आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) का कैंपेन सॉन्ग तैयार किया है. चुनावी तैयारियों के मद्देनजर शुक्रवार को कांग्रेस ने भी अपना कैंपेन सॉन्ग लॉन्च कर दिया है. कैंपेन सॉन्ग में 'फिर से कांग्रेस वाली दिल्ली' पार्टी का इलेक्शन स्लोगन है. कांग्रेस के ट्विटर हैंडल से इस कैंपेन सॉन्ग को शेयर किया गया है. इस सॉन्ग की खास बात यह है कि कांग्रेस ने इसमें दिल्ली की जनता को शीला दीक्षित (Sheila Dikshit) के विकास कार्यों को याद दिलाया है.

दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का 2019 में निधन हो गया था. वह 1998 से लेकर 2013 तक लगातार तीन बार दिल्ली की मुख्यमंत्री रही थीं. कैंपेन सॉन्ग में शीला दीक्षित नजर आ रही हैं. पार्टी का फोकस 15 साल में पूर्व सीएम के द्वारा किए गए विकास कार्यों पर है. कांग्रेस जनता को याद दिला रही है कि शीला दीक्षित के शासनकाल में दिल्ली कितनी खुशहाल थी. वीडियो में कांग्रेस के समय दिल्ली को सबसे हरित प्रदेश भी बताया गया है. दिल्ली के विकास कार्यों और दिल्ली की जनता के अलावा इसमें कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी भी नजर आ रहे हैं.

दिल्ली कांग्रेस के अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा ने कैंपेन सॉन्ग की लॉन्चिंग के दौरान कहा, 'दिल्ली में जब कांग्रेस की सरकार थी तो हमारी प्राथमिकता थी कि जनता को बिजली और साफ पानी जरूर मिले. 15 साल के शासन के दौरान दिल्ली की सभी समस्याओं को खत्म करते हुए दिल्लीवासियों को बेहतर सुविधाएं दी थीं. शीला दीक्षित की सरकार ने राजधानी का चेहरा बदला. उस दौरान ट्रैफिक जाम से निजात दिलाने के लिए 67 फ्लाईओवर बनाए गए थे, रिंग रोड को सिग्नल फ्री किया गया था.'

शीला दीक्षित के बेटे संदीप दीक्षित ने दिल्ली कांग्रेस प्रभारी पीसी चाको को ठहराया मां की मौत का जिम्मेदार : सूत्र

बताते चलें कि AAP सभी 70 सीटों पर उम्मीदवारों के नामों का ऐलान कर चुकी है. उनका चुनावी स्लोगन 'अच्छे बीते 5 साल, लगे रहो केजरीवाल' है. पिछले विधानसभा चुनाव में AAP ने 70 में से 67 सीटें जीती थीं. तीन सीटें बीजेपी के खाते में गई थीं. कांग्रेस का खाता भी नहीं खुल पाया था. BJP भी इस चुनावी रण में ताल ठोक चुकी है. दिल्ली BJP के अध्यक्ष मनोज तिवारी दावा कर रहे हैं कि BJP 50 से ज्यादा सीटें जीत रही है और दिल्ली में उनकी पार्टी की सरकार बनने जा रही है.

Newsbeep

VIDEO: हॉट टॉपिक: क्या दिल्ली में प्रवासियों पर दांव खेलेगी कांग्रेस?

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com