'पिता ने तोड़ा दम, न कोई डेडबॉडी लेने आया, न हम बाहर जा सकते हैं'- कोरोना पॉजिटिव बेटे ने बयां किया दर्द

एनडीएमसी कर्मचारी अनुपम ने बताया कि उनके पिता की मौत भी कोरोनो से हुई है लेकिन दिल्ली सरकार ने टेस्ट ही नहीं किया.

'पिता ने तोड़ा दम, न कोई डेडबॉडी लेने आया, न हम बाहर जा सकते हैं'- कोरोना पॉजिटिव बेटे ने बयां किया दर्द

कोरोना संक्रमित एनडीएमसी कर्मचारी के पिता की मौत (प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली:

देश के साथ-साथ राष्ट्रीय राजधानी में दिल्ली में भी कोरोना वायरस (Coronavirus) के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. इसी के साथ बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी और सरकारी कर्मचारी भी वायरस के शिकार हो रहे हैं. दिल्ली के गणेश नगर में रहने वाले एनडीएमसी (NDMC) कर्मचारी अनुपम त्रिपाठी कोरोना से संक्रमित हैं. उनका बेटा और पत्नी भी कोरोना पॉज़िटिव हैं. सभी लोग होम क्वारंटाइन में हैं. त्रिपाठी का कहना है कि उनके पिता की मौत हो गई, लेकिन कोई उनके शव को लेने नहीं आ रहा है और घर से बाहर वो जा नहीं सकते हैं. उऩका कहना है कि पिता की मौत भी कोरोना की वजह से हुई है लेकिन दिल्ली सरकार ने टेस्ट नहीं किया. 

अनुपम त्रिपाठी के मुताबिक, उनके पिता (82 साल) को 3 -4 दिन से बुखार और खांसी आ रही थी, लेकिन बहुत कोशिश के बाद भी उनका टेस्ट नहीं किया गया. आज सुबह 7:30 बजे पिता की मौत हो गई, अब वो सुबह से हर हेल्पलाइन पर फोन कर रहे हैं लेकिन कोई डेडबॉडी लेने नहीं आ रहा है, वो खुद निकल नहीं पा रहे हैं क्योंकि पूरा परिवार कोरोना पॉजिटिव है. अनुपम ने बताया कि उनके पिता की मौत भी कोरोना से हुई है लेकिन दिल्ली सरकार ने टेस्ट ही नहीं किया.

दिल्ली में COVID-19 मरीजों का आंकड़ा 26 हजार के पार पहुंच गया है. शुक्रवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटों में दिल्ली में 1330 नए पॉजिटिव मरीज़ सामने आए हैं. संक्रमितों का कुल आंकड़ा 26334 हो गया है. वहीं पिछले 24 घंटों में 417 मरीज ठीक हुए हैं. अब तक 10315 मरीज़ सही हुए हैं. पिछले 24 घंटों में 25 मरीजों की मौत इस वायरस की वजह से हुई है जबकि 4 मई से लेकर 2 जून तक 33 मरीजों की मौत की लेट रिपोर्टिंग हुई जिसके चलते अब मरने वालों का आंकड़ा 708 हो गया है.

वीडियो: मुंबई में कई आइसोलेशन सेंटर खाली, फिर भी नए क्यों?

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com