दिल्ली में कोरोना के मामले बढ़कर 445 हुए, 24 घंटे में आए 59 नए मामले

केजरीवाल ने कहा कि कोरोना दिल्ली में कंट्रोल में है और अब तक यहां इस वायर के संक्रमण से 6 लोगों की मौत हुई है जबकि 11 ICU में और 5 वेंटीलेटर पर हैं.

दिल्ली में कोरोना के मामले बढ़कर 445 हुए, 24 घंटे में आए 59 नए मामले

नई दिल्ली:

Delhi Coronavirus Updates: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने शनिवार को दिल्ली में कोरोनावायरस (Coronavirus) की स्थि‍ति को लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस की. उन्होंने बताया कि राज्य में पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 59 नए मामले सामने आए हैं जिससे यहां संक्रमितों की संख्या 445 हो गई है. उन्होंने बताया कि 40 मामले एक-दूसरे को छूने से हुए, बाकी सब मरकज़ के या फिर विदेश से आये लोगों के हैं. केजरीवाल ने कहा कि कोरोना दिल्ली में कंट्रोल में है और अब तक यहां इस वायरस के संक्रमण से 6 लोगों की मौत हुई है जबकि 11 ICU में और 5 वेंटीलेटर पर हैं.

मुख्यमंत्री ने बताया कि राज्य में कोरोना का लोकल ट्रांसमिशन तो हुआ है लेकिन अभी कम्युनिटी ट्रांसमिशन नहीं हुआ है. आने वाले दिनों में मरकज़ के मामलों के नतीजे आएंगे, उससे एकदम से आंकड़ा बढ़ने की संभावना है. यहां अब तक 6 लोग की मौत इस वायरस के संक्रमण से हुई है. इनमें से 3 मरकज़ के हैं. मरने वाले 6 लोगों में से 5 को कोई न कोई दूसरी बीमारी थी. उन्होंने सभी बुजुर्गों से निवेदन किया कि वो अपना ख्याल रखें. जिन लोगों को शुगर है, दिल की बीमारी है या लीवर की बीमारी है उन लोगों को खुद को बचा कर रखना पड़ेगा, उन लोगों के लिए कोरोना जानलेवा हो सकता है.

उन्होंने बताया कि शुक्रवार को 6,63,928 लोगों को लंच कराया गया जबकि 6,78,554 लोगों को डिनर कराया गया. जिन लोगों के पास राशन कार्ड नहीं है उन लोगों के लिए हमने वेबसाइट पर एक छोटा सा फॉर्म बनाया है, उसको आप भर दीजिए जिससे आप रजिस्टर हो जाएंगे. यह इसलिए जरूरी है ताकि लोग कई कई बार राशन ना ले लें. जब से वेबसाइट खुली है तब से 40 से 50 हजार लोग आवेदन कर चुके हैं. ऐसे लोगों को बुधवार या गुरुवार से राशन मिलना शुरू हो सकता है और 5 किलो मुफ्त राशन प्रति व्यक्ति मिलना शुरू हो जाएगा.

केजरीवाल ने कहा कि PPE किट की कमी हो गई. मैं अपने डॉक्टर, नर्स और सभी स्टाफ को लेकर चिंतित हूं. मैं नहीं चाहता कि किसी भी डॉक्टर, नर्स को बिना PPE के कोरोना मरीजों का इलाज करना पड़े. शुक्रवार को हमने केंद्र सरकार को लिखा भी था, केंद्र सरकार से अभी तक हमें एक भी PPE नहीं मिला है. हमने केंद्र सरकार को लिखा था कि हमें PPE किट्स तुरंत दी जाएं ताकि हमारे डॉक्टर मरीजों का बिना किसी डर के इलाज कर सकें.

कोरोना पर बोले स्वास्थ्य मंत्री- सिस्टम के सभी लोग जागरुक हैं

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com