दिल्ली में कोरोना के 2033 नए मामले आए सामने, रिकवरी रेट 74.57% पर पहुंचा

Delhi Coronavirus Updates: दिल्ली सरकार की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक बुधवार को दिल्ली में कोरोना के 2033 नए मामले दर्ज किए गए और इस दौरान 48 मरीजों की जान चली गई. यहां अब तक 3213 लोगों की इस जानलेवा वायरस से मौत हो चुकी है.

दिल्ली में कोरोना के 2033 नए मामले आए सामने,  रिकवरी रेट 74.57% पर पहुंचा

Delhi Coronavirus Cases: दिल्ली में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 1 लाख के पार पहुंचा.

नई दिल्ली:

Delhi Coronavirus Updates: देश में कोरोना का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है. भारत में कोरोना वायरस से करीब 7 लाख 42 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हैं वहीं, अब तक  20 हजार 600 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. इस बीच देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना के मामले बढ़कर 1,04,864 तक पहुंच गया है. दिल्ली सरकार की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक बुधवार को दिल्ली में कोरोना के 2033 नए मामले दर्ज किए गए और इस दौरान 48 मरीजों की जान चली गई. यहां अब तक 3213 लोगों की इस जानलेवा वायरस से मौत हो चुकी है. इस बीच दिल्ली में रिकवरी रेट अपने सर्वाधिक स्तर 74.57% पर पहुंच गया है. यानी दिल्ली में कोरोना के हर 4 में से 3 मरीज़ ठीक हुए हैं. दिल्ली में फिलहाल एक्टिव मरीजों की संख्या 23,452 है, वहीं, 14,661 होम आइसोलेशन में हैं.

उधर, भारत में कोविड-19 के 22,752 नये मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 7,42,417 हो गई. वहीं संक्रमित मरीजों के स्वस्थ होने की दर भी बढ़कर 61.53 प्रतिशत हो गई हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह जानकारी दी. मंत्रालय के अनुसार, सुबह आठ बजे जारी आंकड़ों के मुताबिक एक दिन में देश में संक्रमण से 482 और लोगों की मौत के साथ ही मृतक संख्या बढ़कर 20,642 हो गई. मंत्रालय के अनुसार, देश में अभी तक कोविड-19 के 4,56,830 मरीज ठीक हो चुके हैं और 2,64,944 लोगों का इलाज जारी है.

यह भी पढ़ें:  कोरोना संक्रमित होने के संदेह में चलती बस से फेंकी गई लड़की की मौत, यूपी पुलिस को नोटिस

मंत्रालय ने कहा कि कोविड-19 संक्रमितों के स्वस्थ होने की दर लगातार बढ़ रही है और बुधवार को यह 61.53 प्रतिशत पर पहुंच गई. उसने बताया कि पिछले 24 घंटे में कुल 16,883 कोरोना वायरस संक्रमित स्वस्थ हो चुके हैं. मंत्रालय ने कहा कि कोविड केंद्रों में अनेक प्रकार का बढ़ता स्वास्थ्य देखभाल ढांचा, आईसीयू तथा ऑक्सीजन वाले बिस्तरों, वेंटिलेटरों तथा अन्य उपकरणों की उपलब्धता ने कोविड-19 संक्रमण के मामलों का समय पर पता चलने और उनके प्रभावी क्लीनिकल प्रबंधन में मदद की है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

(इनपुट: भाषा से भी)

VIDEO: दिल्ली में कोरोना से लड़ने के लिए 1000 बेड का अस्पताल 12 दिन में तैयार