"जब तक वैक्सीन नहीं, तब तक स्कूल नहीं", NDTV से बोले मनीष सिसोदिया

डिप्टी सीएम ने कहा, "सुप्रीम कोर्ट ने जो कोरोना पर कहा है हमें उसे संज्ञान में लेना चाहिए. दिल्ली की तरफ़ से सुप्रीम कोर्ट को हम बताएंगे कि हमने टेस्टिंग बढ़ाई है. हमारे यहां सबसे ज़्यादा टेस्टिंग हुई है. हम 60 हज़ार से ज़्यादा टेस्ट रोज़ कर रहे हैं."

नई दिल्ली:

Delhi Coronavirus : राजधानी दिल्ली में लगातार बढ़ते कोरोना वायरस (Corona virus) के मामलों के बीच स्कूल खोलने के सवाल पर दिल्ली के डिप्टी सीएम और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने कहा है कि जब तक वैक्सीन नहीं तब तक स्कूल नहीं. सिसोदिया ने कहा है कि इस वक्त स्कूल शुरू करना बच्चों को कोरोना की तरफ ढकेलना जैसा होगा.

एनडीटीवी से एक्सक्लूसिव बातचीत में सिसोदिया ने कहा है, "दिल्ली में अभी स्कूल खुलने की परिस्थिति नहीं लग रही है. उन्होंने कहा कि अभी स्कूल खोलने का मतलब है कि अपने बहुत सारे बच्चों को कोरोना की तरफ़ ढकेल देना, वो ना आप चाहेंगे ना मैं चाहूंगा, न कोई चाहेगा."

मनीष सिसोदिया ने कहा कि केंद्र से हमें सहयोग मिला है, और हमने सहयोग किया भी है आपस में लड़ने से हम कोरोना से नहीं लड़ सकते.

यह भी पढ़ें- दिल्ली के डिप्टी CM मनीष सिसोदिया बोले - लॉकडाउन की योजना नहीं, लेकिन...

दिल्ली के डिप्टी सीएम ने मुख्यमंत्री की प्रधानमंत्री के साथ हुई बैठक के बारे में बात करते हुए कहा, "मुख्यमंत्री ने पीएम के सामने ये रखा कि कोरोना से हमें एक टीम के रूप में लड़ना चाहिए. हमने केंद्र से सहयोग मांगा है कि एक हज़ार आइसीयू बेड्स और मिल जाएं कोविड बेड्स हमारे पास साढ़े 8 हज़ार खाली हैं."

दिल्ली में बड़ते प्रदूषण पर बात करते हुए सिसोदिया ने कहा, "पराली की वजह से कोरोना का कहर बढ़ा. हमें मिलकर एक टीम के रूप में पराली से निपटना होगा."

यह भी पढ़ें- दिल्ली सरकार ने लिया स्कूल बंद रखने का फैसला, अभिभावकों ने इस तरह दी अपनी राय

दिल्ली में कोरोना के लगातार बढ़ते केस पर उन्होंने कहा, "दिल्ली में केस बढ़े हैं निश्चित रूप से लेकिन डेथ रेट बाकी राज़्यों के मुकाबले कम है. अहमदाबाद में डेथ रेट 4.2 है. दिल्ली में डेथ रेट 1.58 के आसपास है. सरकार का मकसद है कि लोगों को बचाया जाए. लोगों से अपील की जा रही है कि एहतियात बरतें, सख्ती भी की जा रही है. मार्केट में अगर भीड़ बढ़ती है तो हम सख़्ती बढ़ाएंगे त्योहार के दौरान भीड़ की उम्मीद थी, अब पुलिस की सख़्ती है कि भीड़ न हो पाए."

Newsbeep

डिप्टी सीएम ने कहा, "सुप्रीम कोर्ट ने जो कोरोना पर कहा है हमें उसे संज्ञान में लेना चाहिए. दिल्ली की तरफ़ से सुप्रीम कोर्ट को हम बताएंगे कि हमने टेस्टिंग बढ़ाई है. हमारे यहां सबसे ज़्यादा टेस्टिंग हुई है. हम 60 हज़ार से ज़्यादा टेस्ट रोज़ कर रहे हैं."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com