दिल्ली विधानसभा चुनाव : किसका खेल बिगाड़ेगी BSP, मायावती की रैलियों का कार्यक्रम तय, सभी सीटों पर प्रत्याशी उतारने का ऐलान

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बीएसपी प्रमुख मायावती दिल्ली विधानसभा चुनाव में पार्टी प्रत्याशियों के लिए प्रचार करेंगी और उनकी तीन रैलियां आयोजित की जायेंगी.

दिल्ली विधानसभा चुनाव : किसका खेल बिगाड़ेगी BSP, मायावती की रैलियों का कार्यक्रम तय, सभी सीटों पर प्रत्याशी उतारने का ऐलान

खास बातें

  • दिल्ली की 70 सीटों पर विधानसभा चुनाव
  • BSP सभी सीटों पर उतारेगी प्रत्याशी
  • 42 उम्मीदवारों की सूची जारी
नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बीएसपी प्रमुख मायावती दिल्ली विधानसभा चुनाव में पार्टी प्रत्याशियों के लिए प्रचार करेंगी और उनकी तीन रैलियां आयोजित की जायेंगी.  सूत्रों के अनुसार, मायावती की पहली रैली नयी दिल्ली स्थित तालकटोरा स्टेडियम में तीन फ़रवरी को आयोजित होगी. पिछले एक सप्ताह से मायावती की निगरानी में दिल्ली विधानसभा चुनाव में पार्टी की रणनीति को लागू किया जा रहा है. सूत्रों के अनुसार, बीएसपी उम्मीदवारों के नाम तय करने के बाद सोमवार को अभियान की रूपरेखा तय की गयी. बसपा के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण सिंह और पार्टी सांसदों को विधानसभा चुनाव अभियान की कमान सौंपी गई है. पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि तीन फ़रवरी की रैली के बाद एक रैली अनधिकृत कालोनी क्षेत्र और एक रैली दलित मतदाताओं की बहुलता वाले किसी विधानसभा क्षेत्र में होगी. इन रैलियों का स्थान अभी तय किया जाना बाक़ी है. हाल ही में बीएसपी में शामिल हुए आप के विधायक नारायण दत्त शर्मा को पार्टी ने दक्षिणी दिल्ली के बदरपुर विधानसभा क्षेत्र से उम्मीदवार बनाया है. 

बीएसपी की लड़ाई किससे? बीजेपी को मायावती की नसीहत, कांग्रेस की तरह बुरी न बनो

माना जाता है कि ग्रामीण क्षेत्र की इस सीट पर भी मायावती एक रैली कर सकती हैं. इस सीट पर 2008 के विधानसभा चुनाव में बीएसपी के उम्मीदवार राम सिंह नेता जी ने जीत दर्ज की थी. मौजूदा विधायक शर्मा के सामने अब राम सिंह ‘आप' उम्मीदवार के रूप में चुनौती दे रहे हैं.  ग़ौरतलब है कि दिल्ली की 70 सदस्यीय विधानसभा के लिए आठ फ़रवरी को मतदान और 11 फ़रवरी को मतगणना होगी.  विधानसभा की 12 सीटें अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित हैं. पार्टी ने सभी सीटों पर चुनाव लड़ने की घोषणा करते हुए पिछले सप्ताह शनिवार को बीएसपी के 42 उम्मीदवारों की सूची जारी की थी. दिल्ली बीएसपी को बड़ी ताकत नहीं माना जाता है. लेकिन बीते कुछ चुनावों में उसका वोट बैेंक बढ़ा था. इस लिहाज से माना जा सकता है कि बीएसपी कई सीटों पर खेल बिगाड़ भी सकती है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

CAA का समर्थन करने पर BSP सुप्रीमो मायावती ने विधायक को किया पार्टी से निलंबित​



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)