Delhi Fire: सीएम केजरीवाल ने किया मृतकों के परिजनों को 10-10 और घायलों को 1-1 लाख रुपये मदद का ऐलान

मनोज तिवारी ने भी एएनआई से बात करते हुए कहा, ''यह एक दुखद घटना है. शुरुआती जांच के मुताबिक फैक्टरी में शॉर्ट सर्किट के कारण आग लगी. घटना में मरने वाले लोगों के परिजनों को बीजेपी 5 लाख की मदद देगी और घायलों को 25,000 की आर्थिक सहायता देगी''.

Delhi Fire: सीएम केजरीवाल ने किया मृतकों के परिजनों को 10-10 और घायलों को 1-1 लाख रुपये मदद का ऐलान

CM Arvind Kejriwal ने किया मृतकों के परिजनों को 10 लाख का मुआवजा देने का ऐलान.

खास बातें

  • रविवार अल सुबह फैक्टरी में लगी आग
  • सीएम केजरीवाल ने किया 10 लाख का मुआवजा देने का ऐलान
  • बीजेपी ने भी किया मृतकों के परिजनों को 5 लाख का मुआवजा देने का ऐलान
नई दिल्ली:

दिल्ली की रानी झांसी रोड पर अनाज मंडी के पास एक फैक्टरी में रविवार सुबह आग लगने से 43 लोगों की मौत हो गई. घटना के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Chief Minister Arvind Kejriwal) ने कहा, यह बहुत दुखद है.  मुख्यमंत्री केजरीवाल ने इसके साथ ही मृतकों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये मुआवजा देने का ऐलान किया. उन्होंने न्यूज एजेंसी ANI से बात करते हुए कहा, ''मैंने मजिस्ट्रेट को जांच का आदेश दिया है. मृतकों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये का मुआवाजा दिया जाएगा और घायलों को 1 लाख रुपये आर्थिक मदद के तौर पर दिए जाएंगे. इलाज का पूरा खर्च भी सरकार उठाएगी''. 

यह भी पढ़ें: दिल्ली में अनाज मंडी के पास फैक्टरी में आग से अब तक 43 मजदूरों की मौत

वहीं उत्तर पूर्वी दिल्ली से एमपी मनोज तिवारी ने भी एएनआई से बात करते हुए कहा, ''यह एक दुखद घटना है. शुरुआती जांच के मुताबिक फैक्टरी में शॉर्ट सर्किट के कारण आग लगी. घटना में मरने वाले लोगों के परिजनों को बीजेपी 5-5 लाख रुपये मदद देगी और घायलों को 25,000 की आर्थिक सहायता देगी''.

Newsbeep

घटना को लेकर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी संवेदना व्यक्त करते हुए ट्वीट किया है. अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा, ''दिल्ली की अनाज मंडी में आग लगने की दुखद खबर सुनकर काफी दुख हुआ. मेरी गहन संवेदना प्रभावित परिवारों के साथ है. मैं घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं. स्थानीय प्रशासन लोगों को बचाने और मदद मुहैया कराने की कोशिश कर रही है''. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


आपको बता दें, यह घटना रविवार सुबह रानी झांसी रोड पर अनाज के पास एक फैक्टरी में हुई. आग लगने के वक्त फैक्टरी में काफी सारे मजदूर सो रहे थे. घटना की जानकारी मिलने के बाद दमकल विभाग की टीम मौके पर पहुंची और 64 लोगों को बाहर निकाला. इनमें से 43 लोगों की मौत हो गई है. वहीं अन्य लोगों का दिल्ली के अलग-अलग अस्पतालों में इलाज किया जा रहा है.