NDTV Khabar

दिल्ली अग्निकांड : फैक्ट्री मालिक रेहान को पुलिस ने किया गिरफ्तार, 43 की मौत, 29 की शिनाख्त हुई

उत्तरी दिल्ली में रानी झांसी रोड पर अवैध फैक्ट्री में आग लगने ने 43 लोगों की मौत हो गई, रेहान के भाई को भी हिरासत में लिया गया

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली अग्निकांड : फैक्ट्री मालिक रेहान को पुलिस ने किया गिरफ्तार, 43 की मौत, 29 की शिनाख्त हुई

दिल्ली में भीषण आग की घटना को लेकर फैक्ट्री के मालिक मोहम्मद रेहान को गिरफ्तार कर लिया गया है.

खास बातें

  1. रेहान के खिलाफ गैरइरादन हत्या का मामला दर्ज
  2. दमकल विभाग का अनापत्ति प्रमाण पत्र नहीं था
  3. फैक्ट्री में हवा के आने-जाने की उचित व्यवस्था नहीं थी
नई दिल्ली:

दिल्ली शहर के रानी झांसी रोड पर एक चार मंजिला फैक्ट्री में रविवार की सुबह भीषण आग लगने से 43 श्रमिकों की मौत हो गई. दिल्ली पुलिस ने फैक्ट्री मालिक मोहम्मद रेहान को शाम को गिरफ्तार कर लिया. रेहान के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज किया है. फैक्ट्री के मालिक रेहान के खिलाफ आईपीसी की धारा 304 (गैरइरादन हत्या) का मामला दर्ज किया गया है. तड़के आग लगने के बाद फरार मोहम्मद रेहान को शाम को पुलिस ने गिरफ्तार किया. उससे पूछताछ की जा रही है. रेहान के भाई को पुलिस ने पहले ही हिरासत में ले लिया था. इस हादसे में मृत 29 शवों की शिनाख्त अब तक हुई है. मारे गए 14 मजदूरों की पहचान होना बाकी है.

फैक्ट्री मालिक रेहान के अलावा फैक्ट्री के मैनेजर फुरकान को भी गिरफ्तार कर लिया गया है. डीसीपी नार्थ मोनिका भारद्वाज ने बताया कि रेहान के भाइयों से भी पूछताछ की जा रही है. इसके अलावा कुछ अन्य लोग भी हिरासत में लिए गए हैं.


फैक्ट्री में रविवार की सुबह भीषण आग लगी. अग्निशमन सेवा के अधिकारियों को आग लगने की जानकारी सुबह पांच बजकर 22 मिनट पर दी गई. इसके बाद दमकल की 30 गाड़ियों को घटनास्थल पर भेजा गया. करीब डेढ़ सौ दमकल कर्मियों ने बचाव अभियान चलाया और 63 लोगों को आग से घिरे भवन से बाहर निकाला. शुरुआती जांच में आग लगने का कारण शॉर्ट सर्किट बताया गया है. इस भीषण हादसे में 43 मजदूरों की मौत हो गई. दो दमकल कर्मी भी बचाव कार्य के दौरान घायल हो गए हैं.

इस अग्निकांड के पीछे लापरवाही उजागर हुई है. बताया जाता है कि इन निर्माण इकाइयों के पास दमकल विभाग का अनापत्ति प्रमाण पत्र (एनओसी) नहीं था. आसपास दमकल के वाहनों के आवागमन के लिए पर्याप्त जगह नहीं थी जिससे बचाव अभियान में दिक्कत हुई. दमकल कर्मी खिड़कियां काटकर भवन में दाखिल हुए.

दिल्ली में 22 साल में भीषण आग लगने की पांच घटनाएं; 150 की मौत, लापरवाही सबसे बड़ा कारण

जब आग लगी तब कई मजदूर गहरी नींद में थे. भवन में हवा के आने-जाने की भी समुचित व्यवस्था नहीं थी. इसके परिणाम स्वरूप कई लोगों की दम घुटने से मौत हो गई.

Delhi Fire: इस फायरमैन ने बचाई 11 लोगों की जान, सत्येंद्र जैन ने कहा 'रियल हीरो'

इस हादसे में मृत 29 शवों की शिनाख्त अब तक हुई है. क्राइम ब्रांच की टीम मामले की जांच कर रही है.
 

दिल्ली की अनाज मंडी के बाद अब मानेसर की एक फैक्टरी में लगी आग, दमकल की 6 गाड़ियां मौके पर पहुंची

टिप्पणियां

VIDEO : फैक्ट्री मालिक रेहान के खिलाफ मामला दर्ज



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. India News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


 Share
(यह भी पढ़ें)... पारस छाबड़ा ने बिग बॉस 13 में सलमान खान से की बदतमीजी, भाईजान बोले- अपना मुंह बंद कर...देखें Video

Advertisement