NDTV Khabar

Delhi Fire News: दिल्ली में आग से 43 की मौत, फैक्टरी मालिक की तलाश में पुलिस कर रही है छापेमारी

आज सुबह दिल्ली के अनाज मंडी के पास एक फ़ैक्टरी में आग लगने से 43 लोगों की मौत हो गई. कई लोगों अब भी अस्पताल में भर्ती हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Delhi Fire News: दिल्ली में आग से 43 की मौत, फैक्टरी मालिक की तलाश में पुलिस कर रही है छापेमारी

Delhi Fire News : आग की इस घटना में ज्यादातर मौतें दम घुटने से हुई हैं

खास बातें

  1. दिल्ली में फैक्टरी में आग
  2. 43 लोगों की मौत
  3. फैक्टरी मालिक फरार
नई दिल्ली:

आज सुबह दिल्ली के अनाज मंडी के पास एक फ़ैक्टरी में आग लगने से 43 लोगों की मौत हो गई. कई लोगों अब भी अस्पताल में भर्ती हैं. दमकल की 25 गाड़ियों ने मौके पर पहुंच पर आग पर काबू पाया और सर्च ऑपरेशन भी खत्म हो गया है. ये आग एक-दूसरे से जुड़ी 3 इमारतों की चौथी और पांचवी मंजिल में लगी थी. फ़ैक्टरी के मालिक का नाम रेहान है जो सदर बाज़ार इलाके में रहता है. उसे गिरफ़्तार करने के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है. फिलहाल पुलिस ने फ़ैक्टरी के मालिक के भाई को हिरासत में लिया है. वहीं NDRF की टीम भी मौक़े पर जांच पड़ताल की है. 600 गज़ में बनी इस इमारत की चारो मंज़िलों पर कपड़े का बैग, प्लास्टिक का काम और बाइंडिंग का काम होता है.  घटनास्थल पर पहुंचे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हादसे पर खेद जताते हुए कहा कि इस मामले में न्यायिक जांच के आदेश दे दिए गए हैं. साथ ही उन्होंने मृतकों के परिजनों को 10-10 लाख मुआवज़ा और घायलों के 1-1 लाख मदद और मुफ़्त इलाज देने का ऐलान किया. वहीं बीजेपी ने मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख रुपये और घायलों को 25-25 हज़ार रुपये मदद देने का ऐलान किया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से भी मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख और गंभीर घायलों को 50-50 हजार रुपये मदद का ऐलान किया है. 

Fire in Delhi Factory Live Updates: फैक्टरी के मालिक रेहान के खिलाफ मामला दर्ज, घटना के बाद से है फरार


टिप्पणियां

वहीं दिल्ली फायर सर्विस (DSF) के चीफ अतुल गर्ग ने कहा कि, ''बिल्डिंग को डीएसएफ की ओर से फायर क्लीयरेंस नहीं दिया गया था''. उन्होंने आगे कहा, ''इमारत में आग से बचाव के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले किसी भी तरह के उपकरण नहीं मिले हैं''. अतुल गर्ग ने अनाज मंडी के पास हुई इस घटना को लेकर एएनआई को यह बयान दिया है. आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने कहा, 'अगर कोई फैक्ट्री किसी घर में अवैध रूप से चल रही थी, तो उसे बंद करने की जिम्मेदारी दिल्ली नगर निगम की थी. एमसीडी ने फैक्ट्री को कैसे चलने दिया?


Delhi Fire: CM केजरीवाल ने मृतकों के परिवारों के लिए 10 लाख रुपये मुआवजे की घोषणा की​



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. India News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


 Share
(यह भी पढ़ें)... CAA पर चल रहे प्रदर्शनों के बीच बोले प्रणब मुखर्जी, आंदोलनों की लहर लोकतंत्र की जड़ों को और मजबूत बनाएगी

Advertisement