दिल्‍ली के राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में होगी कोविड वैक्‍सीन की स्‍टोरेज..

तीनों फ्लोर मिलाकर करीब 7000 से 8000 स्क्वायर मीटर का एरिया होगा, इसमें वैक्सीन से जुड़ा सारा ऑफिस और स्टोरेज बनाना है. जो भी सेंटर से वैक्सीन आयेगी यहाँ रखी जायेगी और डिस्ट्रीब्यूशन का काम यहीं से किया जाएगा.

दिल्‍ली के राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में होगी कोविड वैक्‍सीन की स्‍टोरेज..

अस्पताल से कोरोना वैक्‍सीन के स्टोरेज के लिए जगह मांगी गई थी (प्रतीकात्‍मक फोटो)

खास बातें

  • यहां तैयार होगी दिल्‍ली की पहली वैक्सीन स्टोरेज फैसिलिटी
  • तीनों फ्लोर में है करीब 7000 से 8000 स्क्वायर मी. एरिया
  • स्‍टोरेज के लिए बड़े-बड़े डीप फ्रीजर्स लगाए जाएंगे
नई दिल्ली:

Corona Pandemic: देश की राजधानी दिल्ली के राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल (Rajiv Gandhi Super speciality Hospital) में दिल्ली की पहली कोविड-19 वैक्सीन (Covid Vaccine) स्टोरेज फैसिलिटी तैयार होगी. राजीव गांधी सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल से जुड़े एक वरिष्ठ अधिकारी से मिली जानकारी के मुताबिक, अस्पताल से स्टोरेज फैसिलिटी के लिए जगह मांगी गई थी. अस्पताल की मेन बिल्डिंग से अलग एक यूटिलिटी ब्लॉक है जिसमें अभी फ्लू कार्नर चल रहा था, वो हिस्सा तब्दील करके स्टोरेज फैसिलिटी के लिए हैंडओवर किया गया है. ग्राउंड फ्लोर और फर्स्ट फ्लोर दिया गया है. तीसरा फ्लोर देने को भी कहा गया है वो भी दे दिया जाएगा. तीनों फ्लोर मिलाकर करीब 7000 से 8000 स्क्वायर मीटर का एरिया होगा, 

AIIMS में भारत बायोटेक के कोवैक्सिन के तीसरे चरण का परीक्षण शुरू

इसमें वैक्सीन से जुड़ा सारा ऑफिस और स्टोरेज बनाना है. जो भी सेंटर से वैक्सीन आयेगी यहाँ रखी जायेगी और डिस्ट्रीब्यूशन का काम यहीं से किया जाएगा. इस अधिकारी ने बताया कि करीब 15 दिन पहले दिल्ली सरकार की टीम निरीक्षण करने आई थी. स्टोरेज के लिये बड़े-बड़े डीप फ्रीज़र्स होंगे, उनके हिसाब से दरवाजों को बदला जा रहा है, इलेक्ट्रिसिटी पॉइंट्स लगाये जा रहे हैं, साइज़ के हिसाब से कमरों में बदलाव किया जा रहे है, ऑफिसर्स वॉशरूम तैयार किये जा रहे हैं. 10-15 दिन में हैंडओवर कर दिया जायेगा.

Newsbeep

RT-PCR टेस्ट की कीमत घटाने को लेकर SC ने केंद्र और राज्यों से मांगा जवाब

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com