दिल्‍ली: कोच पद से हटा दिया गया तो पूरी फुटबॉल टीम के मोबाइल चुराए, गिरफ्तार..

आरोपी शेखर ने पटेल नगर के पूसा इंस्टीट्यूट से होटल मैनेजमेंट का कोर्स किया है.उसने जिला स्तर पर लायंस क्लब की ओर से 2004 से 2010 तक फुटबॉल खेला. वर्ष 2011 से उसने फुटबॉल कोच के तौर पर अपना करियर शुरू किया.

दिल्‍ली: कोच पद से हटा दिया गया तो पूरी फुटबॉल टीम के मोबाइल चुराए, गिरफ्तार..

पुलिस ने आरोपी के पास से 9 मोबाइल फोन बरामद किए हैं

नई दिल्ली:

दिल्ली पुलिस ने एक फुटबॉल कोच (Football coach)को गिरफ्तार किया है जिसने एक मैच के दौरान जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम से पूरी टीम के मोबाइल फोन (Mobile) चोरी कर लिए थे. आरोपी ने ऐसा इसलिए किया क्योंकि उसको कोच के पद से हटा दिया गया था. दक्षिणी दिल्ली के डीसीपी अतुल ठाकुर के मुताबिक 13 मार्च को लोधी कॉलोनी पुलिस थाने में एक पीसीआर कॉल मिली कि जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम के एक ड्रेसिंग रूम से दिल्ली यूनाइटेड फुटबॉल क्लब की पूरी टीम के 12 मोबाइल और पर्स चोरी कर लिए गए हैं. जांच में पता चला कि यहां जनवरी से Delhi फुटबॉल क्लब लीग का टूर्नामेंट चल रहा था और 13 मार्च को दिल्ली यूनाइटेड क्लब का मैच था, इसलिए उन्हें एक ड्रेसिंग रूम दिया गया था.

पुलिस इस मामले की जांच में लगी थी कि मार्च हाल ही में चोरी किये गए मोबाइल फोन में एक फोन एक्टिवेट हुआ. जब उस शख्स के यहां छापा मारा गया तो पता चला कि उसे ये फोन शेखर पाठक नाम के शख्स ने दिया है. पुलिस ने जब शेखर पाठक के पांडव नगर के घर में छापा मारा तो कुल 9 फोन बरामद हुए और शेखर भी पकड़ा गया. 

पूछताछ के दौरान शेखर ने बताया कि उसने पटेल नगर के पूसा इंस्टीट्यूट से होटल मैनेजमेंट का कोर्स किया है. इसके बाद वह दिल्ली के ओबेरॉय और अशोका होटल में रेस्टोरेंट मैनेजर रहा. उसने जिला स्तर पर लायंस क्लब की ओर से 2004 से 2010 तक फुटबॉल खेला. वर्ष 2011 से उसने फुटबॉल कोच के तौर पर अपना करियर शुरू किया लेकिन 2013 में उसे समय पर न आ पाने के कारण निकाल दिया गया. उसके बाद उसने प्रीत विहार में शुभम फुटबॉल अकेडमी शुरू की लेकिन बाद में ये अकेडमी भी बन्द कर दी और फिर पुरानी टीम से बदला लेने के लिए उसने पूरी टीम के मोबाइल और पर्स चोरी कर लिए.
 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com